बड़ा हुआ Mahatma Gandhi Kashi Vidyapith का परिवार, 16 नए महाविद्यालयों को मिला Affiliation, 3000 Seats भी बढ़ी

पहले महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से 361 महाविद्यालय एफिलिएटिड थे, लेकिन अब यह संख्या 377 पहुंच गई है। 16 नए महाविद्यालयों से जुड़ने के बाद महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ का परिवार और बड़ा हो जाएगा और स्टूडेंट्स को भी कॉलेज एडमिशन के लिए अब ज़्यादा भागदौड़ नहीं करनी पड़ेगी।

 
Image source: aajtak
इन जिलों में होंगे नए महाविद्यालय।
उत्तर प्रदेश, Digital Desk: उत्तर प्रदेश के छात्र अपने कॉलेज की पढ़ाई को लेकर काफी चिंतित रहते थे। क्योंकि यहां सीट कम थी, और एडमिशन ज्यादा। ऐसे में बच्चों को दूसरे प्रदेश में पलायन करना पड़ता था। जिससे खर्चों में बढ़ोतरी होती थी और वे अपने परिवार से भी दूर हो जाते थे। लेकिन जिस उच्च शिक्षा के लिए वे दूसरे प्रदेश में पलायन करने जा रहे थे, अभी वही शिक्षा उन्हें अपने ही प्रदेश में मिल जाए करेगी।

महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ प्रदेश का सबसे उच्च शिक्षा कॉलेजे माना जाता है। जिससे कई सारे महाविद्यालय affliated है। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से लगभग 361 कॉलेजेस affliated है, लेकिन अब यह संख्या 377 हो गई है। क्योंकि 16 महाविद्यालयों को विद्यापीठ द्वारा affliation दे दिया गया है।

यह 16 महाविद्यालय 3000 बच्चों को प्रदेश में ही रहकर पढ़ने की सहायता करेंगे। यह 16 महाविद्यालय बनारस, मिर्ज़ापुर, चंदौली और सोनभद्र बीए, बीकॉम,बीएससी, बीएड और 5 वर्षीय एलएलबी एवं विभिन्न कोर्सों में वर्तमान सत्र में दाखिला देने की मान्यता रखेंगे।

कहाँ होंगे यह महाविद्यालय -

• इंस्टिट्यूट ऑफ़ हायर एजुकेशन, हरिहरपुर

• स्वर्गीय वंश नारायण महिला महाविद्यालय और किशोरी कमलेश महाविद्यालय, गौर मिर्जामुराद

• लिटिल फ्लावर महाविद्यालय, डाफी

• गौरादेवी धनाई प्रसाद महाविद्यालय, पिंडरा

• बालाजी गर्ल्स इंस्टीट्यूट ऑफ एडुकेशन, लमही

• काशी दर्शन डयू महाविद्यालय, मड़ाई-बनकट

• महादेव महेंद्र महाविद्यालय, फेसुडा सकलडीहा

• उदय प्रताप वोमेन्स कॉलेज, इजरा

• उदय प्रताप विधि महाविद्यालय हिजरा अरुण योग्य एकेडमी दयालपुर सदलपुरा

• रामविलास सिंह शिक्षण संस्था महिला महाविद्यालय, अहरौरा

• विष्णु जी घाटम महाविद्यालय घाटमपुर

• रामलाल विधि महाविद्यालय, माफी जलालपुर

• साईं इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ कालेज, लोहारीकला

• राजाराम महाविद्यालय, मररही चोपन।

इनके अलावा विद्यापीठ प्रशासन में बनारस सहित पांच और जिलों में करीब 40 महाविद्यालयों को पंचवर्षीय विधि, बीए, बीएससी कृषि सहित अन्य व्यवसायिक एवं रोजगार कोर्स संचालित करने हेतु मान्यता प्रदान की है।

अब कुल महाविद्यालय की संख्या -

वाराणसी - 123
चंदौली - 88
भदोही -25
मिर्ज़ापुर - 92
सोनभद्र - 49