कहीं भारत का भी न हो जाए ब्रिटेन की तरह हाल, अगर ऐसा हुआ तो 1 दिन में आएंगे 14 से 15 लाख कोरोनावायरस के केस

नीति आयोग के सदस्य वी के पॉल ने कोरोना वायरस को लेकर हम सब को एक चेतावनी दी है और चिंता जताई है कि, कहीं यह तेजी से फैल न जाए।

 
image : bloomberg
ब्रिटेन की तरह भारत का भी न हो जाए कोरोनावायरस वाला हाल।

नई दिल्ली, Digital Desk: ओमिक्रोन वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। अन्य देशों में इसके प्रकोप को हर कोई देख रहा है। यह कोरोना का सबसे खतरनाक वैरीअंट है, जिसके प्रति डब्लूएचओ ने हम सबको पहले ही आगाह कर दिया है। ऐसे में ब्रिटेन की तरह भारत का भी कोरोनावायरस के तरह हाल हो सकता है अगर सावधानी नहीं बरती तो।

नीति आयोग ने दी चेतावनी:

नीति आयोग के सदस्य बीके पाल ने बताया कि जिस तरह से यूरोप में डेल्टा वैरीअंट हावी हो रहा है। यह चिंताजनक है, यह महामारी को एक नया चरण दे सकता है। दरअसल यूरोप के कई सारे देश जैसे ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी आदि जैसे देशों में डेल्टा वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है। अब इसके बाद ओमिक्रोन भी आशंका पैदा कर रहा है। ऐसे में नीति आयोग के सदस्य ने स्वास्थ्य मंत्रालय की सप्ताहिक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया है कि ब्रिटेन में तेजी से मामले बढ़ते नजर आ रहे हैं वहां 80 से 90 हज़ार मामले आ रहे हैं। यदि ब्रिटेन की आबादी को भारत की आबादी के नजरिए से देखा जाए तो भारत की आबादी के अनुसार यह 14 से 15 लाख नया केस रोजाना सकता है। फिलहाल भारत में इस प्रकार का कोरोनावायरस का खतरा नहीं बढ़ रहा है, लेकिन हमें सावधान रखने की जरूरत है।



इसी प्रकार नॉर्वे में भी तेजी से मामले बढ़ते नजर आए और नए संक्रमण से 18 फ़ीसदी संक्रमण तो ओमिक्रोन के थे। बीके पाल ने बताया कि यूरोप में जिस प्रकार से संक्रमण बढ़ रहा है, वहां महामारी एक नए चरम सीमा को पार कर चुकी है। ऐसे में इसलिए हमें भूलना नहीं चाहिए और सावधानी बरतते रहना चाहिए। यह चिंता का विषय तो जरूर है क्योंकि एक ही दिन में यानी कि शुक्रवार को 93000 से भी ज्यादा मामले ब्रिटेन में देखने को मिले। जिनमें मरने वालों की संख्या 111 थी। वहीं यूनाइटेड किंगडम ने भी 88000 केस 1 दिन में देखने को मिले। तेजी से मामला बढ़ता जा रहा है, इसलिए सबको हिदायत दी जाती है कि वैक्सीनेशन की प्रक्रिया पूरी करें और जल्द ही इस महामारी को रोकें। फिलहाल पूरे विश्व में इस महामारी से 147000 लोगों ने अपनी जान गंवाई है।