Alwar Gangrape: नाबालिग पीड़िता के शरीर पर हर जगह पर थे गहरे घाव, ढाई घंटे में किया बच्ची का ऑपरेशन, फिर भी हालत नाजुक

अलवर में एक नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म किया गया, जिसके बाद उसके शरीर पर गहरे घाव थे। बच्ची को जब अस्पताल ले जाया गया तो काफी ब्लीडिंग हो रही थी।

 
IMAGE: TV9 BHARATVARSH

नाबालिक बच्ची के साथ हुआ गैंगरेप(Alwar Gangrape Case)

राजस्थान, Digital Desk: राजस्थान के अलवरAlwar Gangrape Case) में गैंगरेप की मुखबधिर पड़ता का इलाज जयपुर के जेके हॉस्पिटल में हो रहा है। नाबालिक बच्ची(Minor Gangrape) को बेहद खराब स्थिति में अस्पताल में लाया गया था। बच्ची का पूरा शरीर लहूलुहान था और bleeding हो रही थी। बच्ची को लगभग बुधवार दोपहर 2:30 घंटे तक ऑपरेशन थिएटर में रखा गया, जहां उसका ऑपरेशन हुआ। पीड़िता के शरीर के अंदर के पार्ट्स तक डैमेज हो चुके हैं, ऐसे में ऑपरेशन के बाद भी बच्ची को आईसीयू में रेफर कर दिया गया है। फिलहाल नाबालिग बच्ची की हालत नाजुक बनी हुई है, उसकी देखरेख के लिए दो-तीन डॉक्टर की टीम को रखा गया है।

हॉस्पिटल के अधीक्षक ने बताया कि बच्ची को 5 डॉक्टर की टीम द्वारा ऑपरेशन किया गया है। बच्ची के अंदरूनी हिस्सों में काफी गहरे घाव है। बच्ची का रेक्टम अपनी जगह से खिसक गया है, जिसकी वजह से उसे काफी ब्लीडिंग हो रही है। उसके प्राइवेट पार्ट भी कट है, बच्ची का पेट काट के अलग रास्ता बनाया गया है। जिससे मल को बाहर निकाला जा रहा है। इससे बाद में प्लास्टिक सर्जरी की मदद से रिपेयर किया जाएगा।

विस्तार:

अलवर में मंगलवार को रात के समय 14 साल की नाबालिक बच्ची का अपहरण कर लिया गया था। जिसके बाद आरोपियों ने बच्ची के साथ गैंगरेप किया। उसे तिजारा-फाटक पुलिया पर फेंक दिया। 1 घंटे तक पीड़िता पुलिया पर इसी तरह पड़ी रही और तड़पते रही। वह तो कुछ बोल नहीं पा रही थी, हालत गंभीर होने पर दो यूनिट ब्लड देकर उसे जयपुर अस्पताल में रेफर कर दिया गया। वहां भी उसे दो यूनिट ब्लड चढ़ाया गया।

खबर सुनते ही सरकार के मंत्री पीड़िता के पास गए और उसका हाल जानना चाहा। बता दे, अभी तक आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। पुलिस ने इस मामले को पोस्को एक्ट और आईपीसी की कठोर धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। वही पीड़ित नाबालिग को ₹350000 पीड़ित प्रतिकर सहायता राशि जारी की जाएगी।