Vastu Tips: रसोई में हमेशा रखें यह ज़रूरी चीज़ें, कभी नहीं होगी धन की हानि

वास्तु शास्त्र में भी कुछ ऐसी ज़रूरी चीज़ें बताई गई हैं, जिन्हें पूर्ण रूप से कभी भी रसोई में ख़त्म नहीं होने देना चाहिए। अगर यह चीज़ें खत्म हो जाएँ तो उससे मन लक्ष्मी रुष्ट हो जाती हैं और घर में नकारात्मकता फैलती है

 
source: dmcc.com
धन और ऐश्वर्य की देवी हैं माता लक्ष्मी, उन्हें प्रसन्न करने के लिए लोग न जाने कौन कौन से व्रत, पूजन आदि करते है माँ की कृपा बनी रहती है तो धन का अभाव कभी नहीं होता है।  

Digital Desk : हमारे हिन्दू शास्त्रों में ऐसा माना जाता है कि जिस घर पर माता लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है, वहां कभी किसी कष्ट का वास नहीं होता।  माँ लक्ष्मी क धन, ऐश्वर्य और वैभव की देवी माना जाता है।  उनकी कृपा से इंसान के जीवन में सुख और समृद्धि बनी रहती है।  ऐसा कहा जाता है कि अगर माता किसी से रुष्ट हो गई तो उसके जीवन में दुःख और दरिद्रता की भरमार हो जाती है। इसलिए हर मनुष्य की यह कोशिश होती है कि माता को प्रसन्नचित्त रखे। अकसर लोग माता को  प्रसन्ना करने के लिए तमाम तरह की पूजा, अर्चना, व्रत, तप करते रहते है।  

भारतीय सभ्यता में रसोईघर को भी पूजाघर जैसे ही महत्त्वपूर्ण माना जाता है।  लोगों का यह विश्वास है कि रसोई में माँ अन्नपूर्णा का वास होता है, इसलिए यहां भी कुछ महत्त्वपूर्ण बाते हैं जिसका हमे ध्यान रखना चाहिए। यहां तक कि वास्तु शास्त्र में भी कुछ ऐसी ज़रूरी चीज़ें बताई गई हैं, जिन्हें पूर्ण रूप से कभी भी रसोई में ख़त्म नहीं होने देना चाहिए। अगर यह चीज़ें खत्म हो जाएँ तो उससे मन लक्ष्मी रुष्ट हो जाती हैं और घर में नकारात्मकता फैलती है। यदि आप जानना चाहते हैं क्या हैं वह चीज़े तो स्क्रॉल करें और आर्टिकल को पढ़ना जारी रखें।  

आटा
इस चीज़ के बिना तो अमीर से अमीर और गरीब से गरीब घर की रसोई अधूरी है। इसलिए यह माना जाता है कि घर में कभी भी पूरा आटा ख़त्म नहीं होने देना चाहिए, यदि आटा ख़त्म होने वाला हो तो पहले ही नया पैकेट ला कर रख लेना चाहिए।  यह कहा जाता है कि आटे का बर्तन हमेशा भरा रहना चाहिए। इससे घर में अन्न, धन और मान-सम्मान बने रहते हैं। 

हल्दी
हल्दी तो घर का Allrounder मैटेरियल है, घर में कोई पूजा हो या कोई शुभ काम या फिर आपको अपने रूप को निखारना हो, हर जगह इस्तेमाल होता है हल्दी। हल्दी का इस्तेमाल लगभग हर पूजा में किया जाता है, इसका सम्बन्ध गुरु से माना जाता है। इसलिए यह भी माना जाता है की इसकी कमी से गुरु दोष की समस्या पैदा हो सकती है।  इसलिए हमेशा यह कोशिश रहनी चाहिए कि हल्दी पूर्ण रूप से रसोई से ख़त्म ना हो। इसकी कमी से हर शुभ कार्य में व्यवधान प्रकट होने लगते हैं।  

चावल
अकसर ऐसा देखा जाता है कि लोग पूरा चावल ख़त्म होने के बाद ही नया चावल मंगाते हैं। ऐसा इसलिए भी किया जाता है ताकि चावल में कहीं कीड़े न पड़ जाएं।  लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए।  चावल को भी आते की ही तरह कभी पूर्ण रूप से ख़त्म नहीं होने देना चाहिए।  चावल को शुक्र ग्रह से जोड़ा जाता है।  और शुक्र ही भौतिक सुख सुविधा का कारक है। घर में सुख और समृद्ध बने रहे, इसलिए चावल पूर्ण रूप से खत्म होने के पहले ही मंगवा ले। 

नमक
घर चाहे अमीर का हो या गरीब, वहां नमक ज़रूर ही मौजूद होगा। इस पदार्थ के बिना खाने की हर चीज़ फीकी है। व्यंजनों के लिए नमक जितना महत्त्वपूर्ण है, उतना ही घर की सुख शांत के लिए भी है। घर में नमक को कभी भी पूर्ण रूप से ख़त्म नहीं होने देना चाहिए। यदि ऐसा हुआ तो हो सकता है आर्थिक नुकसान, इसके साथ ही यह भी ध्यान रखना चाहिए कि नमक कभी भी दूसरे के घर से ना मांगा जाए।  


source: TV9Bharatvarsh