Shakun Shastra : कई संकेत हैं अपशकुन की निशानी, जानिए क्या-क्या है वह

हमारे ग्रंथों में शुभ-अशुभ, शकुन-अपशकुन से जुड़ी कई बातें की गईं हैं जिनका होना किसी मुसीबत के दस्तक देने जैसा है और वह कौन से संकेत हैं जो शुभ का प्रतीक हैं
 
source: making india
हमारे हिन्दू धर्म के शास्त्रों में हर मुसीबत, बड़ी से बड़ी मुश्किल का समाधान मौजूद है। यदि हम शास्त्रों का पाठ करें तो आसानी से जीवन को एक सरल यात्रा की तरह बसर कर सकते हैं।

Digital Desk: हमारा जीवन एक चक्र है। जीवन में कई अच्छे तो कई बुरे पड़ाव आते रहते हैं। असल में यही अच्छी और बुरी चीज़ें जीवन को जीवन बनती हैं। अच्छा वक़्त तो सब का अच्छी तरह से कट ही जाता है लेकिन असली मुश्किल होती है बुरे वक़्त को बसर करने में। ऐसे में कोई कहीं तो कोई कहीं रास्ते ढूंढने निकलता है। खैर, यह सच है कि मुश्किलें आती हैं तो उनका समाधान भी तैयार होता है बस उसे खोजने की ज़रूरत होती है।  

हमारे हिन्दू धर्म के शास्त्रों में हर मुसीबत, बड़ी से बड़ी मुश्किल का समाधान मौजूद है। यदि हम शास्त्रों का पाठ करें तो आसानी से जीवन को एक सरल यात्रा की तरह बसर कर सकते हैं। आपको बता दें कि, आपके मन में संशय चाहे जो भी हो, उसका हल धर्म ग्रंथों में कही न कहीं मौजूद है।  ऐसे ही हमारे ग्रंथों में शुभ-अशुभ, शकुन-अपशकुन से जुड़ी कई बातें की गईं हैं। अकसर हमने देखा है की कुछ चीज़ें होती है जिसे बड़े बुज़ुर्ग बड़ा ही अपशकुनी मानते है। वहीं कुछ चीज़ें ऐसी होती हैं, जिन्हे हमेशा शकुन का प्रतीक माना जाता। असल में बहुत काम लोग जानते हैं कि यह चीज़े सिर्फ एक मानने वाली बात नहीं है, बल्कि ऐसी कई शकुन अपशकुन की बातें हमारे ग्रंथों में भी मौजूद है।

कई लोग इन बातों से आज भी अनजान हैं। आज हम आपको यहां इस आर्टिकल में मुख्यतः ऐसी ही चीज़ों के बारें में बताएंगे। आज हम आपको बताएंगे वह कौन से संकेत हैं जिनका होना किसी मुसीबत के दस्तक देने जैसा है और वह कौन से संकेत हैं जो शुभ का प्रतीक हैं, अगर आप भी जानना चाहते हैं ऐसी ही चीज़ो के बारे में तो नीचे स्क्रॉल और आर्टिकल पढ़ना जारी रखें।  

  •  इंसान की जेब खाली रहना, अपशकुन माना जाता है। हमेशा कपड़े की सभी जेबों में कुछ न कुछ रुपये रखने चाहिए। इसी तरह से पर्स को भी कभी खाली नहीं रखना चाहिए। उसमें हमेशा ही पैसे रखे होने चाहिए। 
     
  •  हमने हमेशा से देखा है कि घर के बड़े बुज़ुर्ग हमें परीक्षा के समय दही खाये बिना घर से नहीं निकलने देते है। असल में किसी भी शुभ कार्य से पहले मीठी सही खाना शकुन का प्रतीक होता है। यह भी माना जाता है कि मीठी दही खा कर कार्य करने में ज़रूर ही सफलता मिलती है। 
     
  • अगर आप कहीं भी किसी कार्य से बहार जा रहें हैं और आपको वहां सिक्का मिले तो इसका मतलब यह होता है कि आपका कार्य सम्पन्न होने में देरी लगेगी।  इसलिए पहले ही चौकन्ने हो जाएं। 
     
  • यदि कभी भी आप घर से बाहर निकले हों और तुरंत ही सामने कोई भिखारी या भिक्षुक दिख जाए तो उसे कभी नकारें नहीं। जो भी आपसे बन सके उसे ज़रूर दान में दें, इससे आपको पुण्य मिलेगा। 
     
  •  हिन्दू धर्म में झाड़ू को लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है। इसलिए झाड़ू में पैर लगाना या उस पर पैर रखना बहुत ही अपशकुनी माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इंसान झाड़ू का ही नहीं बल्कि माता लक्ष्मी का अनादर कर रहा है। 
     
  • मानने वाले तो यह भी मानते हैं कि यदि रास्ते में कोई बालों की क्लिप मिल जाए तो उसका यही मतलब है आपके जीवन में किसी नए मित्र की एंट्री होने वाली है। इसी तरह यह भी माना जाता है यदि रास्ते में कोई बटन मिल जाए तो कोई नया दोस्त आने वाला है ज़िन्दगी में। 
     
  • यदि किसी घर में रहने वाली स्त्री के पास पड़े चैन में बार बार साफ करने के बाद भी जंग लग जाए तो यह ज़रूर ही किसी शुभ चीज़ का प्रतीक है। 
     

source: pardaphash