गोल्डन कार्ड बनाये जाने के खराब प्रगति पर जिलाधिकारी खफा, कई योजनाओ में गलत रिपोर्टिंग पर व्यक्त की नाराजगी

कोविड टीकाकरण के प्रिकाशन डोज के लक्ष्य के प्राप्ति हेतु कार्ययोजना बनाकर करे कार्य
 
DM MIRZAPUR
जिलाधिकारी द्वारा जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक कर स्वास्थ्य सुविधाओ मुहैया कराने का दिया गया निर्देश

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियो के साथ जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक कर स्वास्थ्य योजनाओ के प्रगति की जानकारी ली गयी। समीक्षा के दौरान कोविड टीकाकरण कार्यक्रम के अन्तर्गत खराब प्रगति पर जिलाधिकारी द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये सभी एम0ओ0आई0सी0 व जिला अस्पताल व महिला अस्पताल के प्रभारियो को निर्देशित करते हुये कहा कि कोविड के प्रिकाशन डोज की प्रगति की समीक्षा प्रत्येक मंगलवार को प्रदेश के मुख्य सचिव के द्वारा वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से किया जा रहा हैं। अतएव प्रतिदिन के प्रिकाशन डोज के लिये जो लक्ष्य दिया गया हैं, लक्ष्य की प्राप्ति के लिये कार्ययोजना बनाकर कोविड प्रिकाशन डोज का टीकाकरण कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि प्रतिदिन के प्रगति से सांय तक अवगत भी कराया जाय। 

उन्होने आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अन्तर्गत गोल्डन कार्ड बनाने की प्रगति कम होने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया गया कि प्रतिदिन विकास खण्डवार उपलब्धी की समीक्षा करे तथा उपलब्धी को बढ़ाना भी सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि इन योजनाओ में कम प्रगति लाने वाले एम0ओ0आई0सी0 को शो-काज नोटिस जारी का स्पष्टीकरण की भी मांग की जाय। "

जिलाधिकारी ने सभी एम0ओ0आई0सी0 सहित मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो में पानी का जल स्तर घटने के बाद प्रभावित ग्रामो में पर्याप्त मात्रा में कीटनाशक दवाओ का छिड़काव एवं संक्रामक बीमारियो के रोकथाम हेतु प्रत्येक पी0एच0सी0 स्तर पर पर्याप्त मात्रा में जीवनोपयोगी दवाईयो की उपलब्धतता सुनिश्चित किया जाय तथा बाढ़ वाले क्षेत्रो में चिकित्सको टीम भेजकर प्रभावित के स्वास्थ्य का परीक्षण करते हुये आवश्यक दवाईयो का निशुल्क वितरण किया जाय। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो में किसी स्तर से निपटने के लिये 108 व 102 एम्बुलेंस को सक्रिय किया जाय ताकि कही से फोन आने पर तत्काल एम्बुलेंस पहुॅच सकें। सभी ए0एन0एम0 व आशाओ को बाढ़ क्षेत्रो में भ्रमणशील रहने का निर्देश दिया जाय तथा किसी भी स्तर पर सूचना को मुख्य चिकित्साधिकारी को दिया जाय।

DM MIRZAPUR

समीक्षा के दौरान ए0एन0सी0 पंजीकरण के कम प्रगति पर जिलाधिकारी द्वारा असंतोष व्यक्त करते हुये समस्त अधीक्षक/प्रभारी चिकित्साधिकारियो को निर्देशित किया गया कि गर्भवती महिलाओ का चिन्हीकरण करते हुये ए0एन0सी0 पंजीकरण की प्रगति बढ़ायी जाय। यह भी निर्देशित किया गया कि प्रत्येक ए0एन0सी0 में सभी गर्भवती महिलाओ का हीमोग्लोबिन की जाॅच की जाय तथा उच्च जोखित गर्भवती महिलाओ की सभी जाॅचे ब्लाक स्तरीय ईकाई अथवा जिला चिकित्सालय में कराना सुनिश्चित करें। नवजात बच्चो के वजन, स्तनपान एवं 25 किलोग्राम से कम वजन की रिपोर्टिंग की समीक्षा के सम्बन्ध में बताया गया कि एच0एम0आई0एस0 पोर्टल पर नवजात बच्चो के वजन की फीडिंग कम है। जिलाधिकारी द्वारा असंतोष प्रकट करते हुये समस्त अधीक्षक/प्रभारी चिकित्साधिकारियो को निर्देशित किया गया के अपने रिपोर्ट को स्वयं जाॅच कर प्रस्तुत करें।

उन्होने कहा कि गलत रिपोर्टिंग करने वालो के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। जननी सुरक्षा की समीक्षा के दौरान पी0एच0सी0 चचेरी मोड़ चुनार, महिला अस्पताल तथा जिला अस्पताल में भुगतान न होने पर बजट की अनुउपलब्धतता बतायी गयी जिस पर जिलाधिकारी द्वारा मुख्य चिकित्साधिकारी/प्राचार्य मेडिकल कालेज को निर्देशित किया गया कि बजट की उपलब्धतता कराते हुये समस्त लाभार्थियो का भुगतान अविलम्ब सुनिश्चित किया जाय। यह भी कहा गया कि नियमित टीकाकरण जिला प्रशिक्षण अधिकारी को निर्देशित किया जाय कि कम उपलब्धी वाले ब्लाको की प्रगति बढ़ाने हेतु कार्ययोजना तैयाकर लक्ष्य पूर्ति करायें। आर0सी0एच0 पोर्टल सहित कई मदो में गलत रिपोटिंग पर जिलाधिकारी द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये समस्त चिकित्सा प्रभारियो को अगली बार से गलत रिपोटिंग पाये जाने सम्बन्धित के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी।
   
आर0सी0एच0 पोर्टल की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी द्वारा असंतोष प्रकट करते हुये निर्देशित किया गया कि  मुख्य चिकित्साधिकारी अपने स्तर से पंजीकरण एवं अपडेशन शत प्रतिशत करने हेतु सम्बन्धित को निर्देशित करें अन्यथा खराब कार्य करने वाले कम्प्यूटर आपरेटरो के विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी द्वारा आशाओ के भुगतान समय से न होने पर भी नाराजगी व्यक्त की गयी तथा निर्देशित किया गया कि आशाओ का भुगतान प्रत्येक माह समय से सुनिश्चित किया जाय। 

बैठक में परिवार नियोजन कार्यक्रम, एन0आर0सी0, एल0बी0एस0यू0, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम की समीक्षा की गयी। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत जिलाधिकारी द्वारा सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियो को निर्देशित किया गया कि आर0बी0एस0के0 टीमो द्वारा ससमय स्कूल व आॅगनबाड़ी केन्द्रो का भ्रमण सुनिश्चित कराये तथा लम्बित बच्चो का उपचार सुनिश्चित कराया जाय। बैठक में कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम, क्षय नियंत्रण, वेक्टर जनित रोग, इमरजेंसी मेडिकल ट्रासपोर्ट, एम्बुलेंस 108 व 102 की समीक्षा की गयी तथा प्रगति लाने का निर्देश दिया गया। 

जिलाधिकारी ने निर्देशित करते हुये कहा कि समस्त प्रभारी चिकित्साधिकारी अपने स्तर से सभी ए0एन0एम0 एवं आशाओ को निर्देशित करे कि यदि उनके क्षेत्र में कोई संक्रामक रोग या अन्य घटना होती है वे सर्वप्रथम सम्बन्धित ब्लाक के अधीक्षक, चिकित्साधिकारी को सूचना उपलब्ध कराय तथा प्रभारी चिकित्साधिकारी सूचना प्राप्त होने के तत्काल उपचार/निरोधात्मक कार्यवाही करते हुये जनपद मुख्यालय को भी अवगत कराया जाय। उन्होने क्षेत्रीय आयुर्वेदिक यूनानी अधिकारी एवं जिला होम्योपैथिक अधिकारी को भी निर्देशित किया कि अपने चिकित्सालयो की भौतिक उपलब्धियो की प्रस्तुतिकरण भी सुनिश्चित करें।

बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ राजेन्द्र प्रसाद, प्राचार्य मेडिकल कालेज, सहित एस0आई0सी0 जिला अस्पताल तथा एस0आई0सी0 महिला अस्पताल डाॅ संजय पाण्डेय सहित सभी प्रभारी चिकित्साधिकारी उपस्थित रहें।

रिपोर्ट- रवि यादव, जिला संवाददाता
मिर्ज़ापुर ऑफिशियल