मण्डलायुक्त, डीआईजी, डीएम व एसपी ने अधिकारियों संग नवरात्र मेला क्षेत्र का किया निरीक्षण, निरीक्षण के पश्चात प्राशसनिक भवन में की बैठक

मेला के समस्त कार्य 20 सितम्बर तक पूर्ण कराने का निर्देश 
 
vindhyachal
नाव का गंगा नदी में संचालन नवरात्र के दौरान रहेगा पूर्णतया प्रतिबंध 

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: मण्डलायुक्त योगेश्वरराम मिश्र, उप पुलिस महानिरीक्षक राम प्रकाश सिंह ने जिलाधिकारी प्रवीणकुमार कुमार लक्षकार, पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र नवरात्र मेला सुरक्षाव्यवस्था के दृष्टिगत विन्ध्यवासिनी मन्दिर, पक्काघाट, पुरानी व्हीआईपी, न्यू व्हीआईपी इत्यादि स्थलों का स्थलीय निरीक्षण किया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 शिव प्रताप शुक्ल, पुलिस अधीक्षक नगर श्रीकान्त प्रजापति, नगरमजिस्ट्रेट विनयकुमार सिंह व अन्य अधिकारियों के साथ निरीक्षण के दौरान उन्होंने कारिडोर प्रगतिकार्य का भी अवलोकन किया। मण्डलायुक्त ने समस्त मेला कार्य 20 सितम्बर 2022 तक पूर्ण करने का निर्देश दिया। मन्दिर व आसपास में दर्शनार्थियों को बेहतर सुविधा के लिए बैरिकेटिंग इत्यादि आवश्यक बिन्दुओ का अवलोकन व दिशानिर्देश जारी किया।

निरीक्षण के पश्चात प्राशासनिक भवन में विभागियों संग बैठक आहूत की गयी। बैठक में मण्डलायुक्त द्वारा मन्दिर जाने वाले सभी मार्गो से गिट्टी बालू आदि हटाकर यात्रियो के आवागमन हेतु मार्ग दुरूस्त कराने का निर्देश दिया गया। उन्होने कहा कि शास्त्री पूल से शिवपुर तक पूरी सड़क का दुरुस्ती करण, अटल चैराहा से बंगाली चैराहा तक किी सड़क का मरम्मत कार्य। एनएच 35 पर कोई गड्ढा इत्यादि न रहे। जाह्नवी होटल के पास की खराब सड़क की मरम्मत  प्रशासनिक भवन तक मरम्मत कराने का निर्देश लोक निर्माण विभाग के अधिकारियो को दिया गया।

बिजली विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि विद्युत तारो से दर्शनार्थियों के साथ कोई दुर्घटना न घटनी पाए। जल निगम से मेला क्षेत्र में पेयजल के लिए नलों की टोटियां दुरुस्त करने के निर्देश दिये गये। जिला पंचायत राज अधिकारी को पहाड़ो पर सफाई व्यवस्था के दृष्टिगत सफाई कर्मियों का शिफ्टवार ड्यटी लगाते हुये उनका पूरा-पूरा रिकार्ड आदि मेला प्रभारी व प्राशासनिक भवन एवं कंट्रोल रूम में मुहैया कराने का निर्देश दिया गया। अधिशाषी अशिकारी नगर पालिका से गंगाघाटों पर पानी मे बैरिकेटिंग के साथ साथ पुलियों का स्थायी निर्माण को समय रहते पूर्ण करने तथा पानी के लेबल को देखते हुए सुरक्षा प्रबन्ध किये जाने का आदेश दिया साथ मे साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता पर बल दिया। नाव का गंगा नदी में संचालन नवरात्र के दौरान भी पूर्णतया प्रतिबंध जारी रहेगा। कारिडोर कार्य मे कार्यदाई संस्था को 19 सितम्बर तक कारिडोर क्षेत्र के समस्त मार्गो को गढ्ढा मुक्त व सुलभता प्रदान करने की बात कही।  पूरे मन्दिर के आस पास के साथ चारो प्रमुख मार्गों व गंगा घाटों पर मैटिंग का प्रबन्ध साथ मे जगह जगह पंखों का भी प्रबन्ध सुनिश्चित हो। खाद्य जांच अधिकारी खाद्य सामग्रियों की जांच करते रहे। 25 सितम्बर से मेला ड्यूटी प्रारम्भ हो। जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट तथा जिम्मेदार पुलिस अधिकारी अपने समय पर ड्यूटी स्थल पर मौजूद रहे। 

उप पुलिस महानिरीक्षक श्री राम प्रकाश सिंह ने कहा भीड़ नियंत्रण के नियमन का पालन होगा तो भीड़ अनियंत्रित नही होगा । प्रत्येक प्रमुख मार्गों पर एडिशनल अथवा सीओ नजदीकी नगर रखे। कोई अवांछनीय व्यक्ति मन्दिर परिसर तक न जाने पाए यह एक चुनौती है । अग्निशमन विभाग को भी सतर्क रहने का निर्देश दिया। महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार न होने पाए । थाना प्रभारी को निर्देश दिया की घाटों पर उठाईगिरी की घटना न घटित पाए । भीड़ के लिए इमरजेंसी प्लान की आवश्यकता । ध्वनियंत्रो का प्रबन्ध अच्छे तरीके से हो । रेलवे व बस स्टेशनों के रास्तों पर नजर बनाए रखे जाने की आवश्यकता । होटलों धर्मशालाओं पर किसी के साथ दुर्व्यवहार न होने पाए। 

जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने कहा मेला क्षेत्र में अतिक्रमण पर रोक लगाने के लिए एक सप्ताह पूर्व से अभियान की चलाया जाय ताकि प्रमुख मार्गाे व गलियो पर लोग अतिक्रमण कर दुकान न लगा सकें।  उन्होनपे कहा कि मन्दिर से 500 मीटर की परिधि में गड्ढे नही होने चाहिए। आगामी 15 दिनों में सड़कों का मरम्मत कार्य पूर्ण किया जाए। लोक निर्माण व नगरपालिका बथुआ से नटवा चैकी के बीच मे सड़क बैठ गई है उसको शीघ्र ठीक करें। आगामी बैठक के पूर्व अष्टभुजा व कालीखोह मार्गो पर भ्रमण करने की आवश्यकता । वाहन स्टैंडों पर अधिक मूल्य वसूले जाने की की सूचनाएं मिलती रहती है इसपर अंकुश लगाना जरूरी है।

 पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र ने नवरात्र मेला में भाव के साथ ड्यूटी में लगने की आवश्यकता हैं। अष्टभुजा व काली खोह मंदिरों को देखते हुए चार अलग जोन की व्यवस्था मैने कर रखी जो बस स्टेशनों, वाहन पार्किंगों पर भी नजर रखी जा सके। पूर्व में घटी घटनाओं के दृष्टिगत हम अलग से तैयारी कर रहे है। जहरखुरानी के मद्देनजर रेलवे स्टेशन व बस स्टेशन से चलने वाले आटो चालको का पहचान पत्र आवश्यक जिससे किसी भी यात्री के साथ कोई घटना न घटने पाए। इस दौरान पण्डासमाज के अध्यक्ष पंकज द्विवेदी, जिला पंचायत अधिकारी अरविन्द कुमार, मुख्यचिकित्साधिकारी डाॅ राजेन्द्र प्रसाद, अधिशाषी अभियन्ता विद्युत विभाग, लोक निर्माण विभाग, स्टेशन अधीक्षक, सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।

रिपोर्ट- रवि यादव, जिला संवाददाता
मिर्ज़ापुर ऑफिशियल