मिर्ज़ापुर: बस ने मारा बाइक सवार दो भाईयों को धक्का, बड़े भाई की मौत, दूसरा गंभीर रूप से घायल

वाराणसी-शक्तिनगर मार्ग पर टेडुआ बाबा मंदिर के पास एक घटना हुई, जिसके बाद बड़े भाई की मौत हो गई और छोटा भाई गंभीर रूप से घायल है।

 
image: patrika
सड़क हादसे में दोनों भाईयों की दुर्दशा।

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: वाराणसी-शक्तिनगर मार्ग पर टेडुआ बाबा मंदिर के पास गुरुवार की दोपहर तेज रफ्तार से बस की चपेट(bus and bike accident) में आने के बाद बाइक सवार भाइयों को टक्कर लगी,जिसमें प्रधानाचार्य एक भाई की वहीं पर मृत्यु(death in road accident) हो गई, वहीं बाद छोटे भाई को गंभीर रूप से चोट आई है। घायल छोटे भाई को वाराणसी स्थित ट्रामा सेंटर में भेज दिया गया है। घटना होने के बाद बस चालक बस वही खड़ा कर भाग गया। ग्रामीणों का कहना है कि ब्रेकर न होने की वजह से आए दिन इस स्थान पर सड़क हादसे होते रहते हैं, लेकिन स्पीड ब्रेकर नहीं बनाया गया, जिसकी वजह से यह हादसे होते रहते हैं। इसलिए तत्काल प्रभाव से हाई स्पीड ब्रेकर बनाया जाए।

विस्तार:

अदलहाट थाना क्षेत्र के मोहनपुर के निवासी प्रधानाचार्य मोहन सिंह की उम्र करीब 70 वर्ष की थी, जो अपने 65 वर्षीय छोटे भाई राजेंद्र सिंह के साथ जोगवा गांव में एक त्रयोदशा में शामिल होने के लिए गए थे, उस जगह से वह घर ही लौट रहे थे। तभी टेडवा बाबा मंदिर के तिराहे पर सड़क पार करते समय सोनभद्र की ओर से आ रही तेज रफ्तार वाली बस ने मोहन सिंह को कुचल दिया, जिसके बाद मोहन सिंह की मृत्यु हो गई। छोटे भाई राजेंद्र सिंह को गंभीर रूप से चोट आई है, जिसके बाद वह घायल हो गए हैं। मौके पर उपस्थित लोगों ने छोटे भाई को तुरंत वाराणसी ट्रामा सेंटर भेजा। वही प्रभारी निरीक्षक अदलहाट नवीन तिवारी मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया है और पोस्टमार्टम को भेज दिया है। घटना के बाद चालक एवं खलासी बस छोड़कर भाग गए।

मोहन सिंह चंद्रशेखर आजाद इंटर कॉलेज में प्रधानाचार्य रह चुके हैं, जो छह भाइयों में सबसे बड़े थे। छोटा भाई राजेंद्र सिंह रामनगर के एक मेडिकल की दुकान में काम करता है।