मिर्ज़ापुर कोरोना रिपोर्ट: जनपद में लगातार छठे दिन मिले कोरोना संक्रमित मरीज़, कुल संख्या पहुँची 12 पर

मिर्ज़ापुर जनपद में लगातार छठे दिन चार कोविड-19 संक्रमित मरीज पाए गए, जिससे अब जिले में एक्टिव संक्रमित मरीज़ों की संख्या 12 हो गई है।

 
image: citizens matters

किसी भी केस में ओमिक्रोन की पुष्टि नहीं।

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: जिले में कोरोना संक्रमण के मरीज की संख्या फिर से बढ़ते हुए नजर आ रही है। 3 दिनों तक 1-1 संक्रमित मरीज मिले, जबकि चौथे दिन 2 संक्रमित मरीज मिले, पांचवे दिन तीन संक्रमित मरीज और बृहस्पतिवार को यानी छठवें दिन चार कोरोनावायरस से संक्रमित मरीज़ पाए गए। जिससे जिले में एक्टिव केस की संख्या कुल 12 हो गई है एवं ओमिक्रोन से संक्रमित मरीजों की संख्या 0 है।

विस्तार:

जिले में पिछले 6 दिनों में लगातार कोरोनावायरस के संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। शनिवार को नगर निवासी 28 वर्षीय युवक संक्रमित पाया गया था, तो रविवार को भी मड़िहान का एक युवक कोरोना संक्रमित था। ऐसे करते-करते 5 दिन तक लगातार मिर्ज़ापुर जिले में कोरोनावायरस संक्रमण के मरीज पाए गए। लेकिन बृहस्पतिवार को एक महिला समेत चार लोग संक्रमित मिले। पिछले 168 दिनों की अगर बात की जाए तो कुल 21 संक्रमित मरीज पाए गए हैं।

इस जिले की कुल संक्रमित मरीजों की संख्या अब 11055 हो चुकी है। जिसमें 10226 लोग कोरोनावायरस से जीत चुके हैं और 117 लोग इस बीमारी का कारण मर चुके हैं। सीएमओ डॉ राजीव सिंघल ने बताया कि जिले में बृहस्पतिवार को 2823 रिपोर्ट आई, जिसमें से एक संक्रमित मिला और तीन संक्रमित मरीजों की रिपोर्ट गैर जनपद में जांच के बाद आई थी। संक्रमित में नगर निवासी 57 साल का की एक महिला है, फिर उसके बाद एक चुनार का अधेड़ निवासी है, एक 24 वर्ष का युवक है और चुनार का ही एक और 40 वर्षीय व्यक्ति है, यह सभी व्यक्ति होम आइसोलेशन में है। जिले में अब तक एक 1120827 सैंपल लिया जा चुके हैं, जिसमें से 1119401 की रिपोर्ट सामने आ चुकी है और 1426 की रिपोर्ट अभी आना बाकी है।

आशीष पटेल भी कोरोना संक्रमित:

अपना दल एस के कार्यवाहक अध्यक्ष आशीष पटेल की भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इस बात की जानकारी उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट से दी। दूसरी तरफ यह खबर भी उड़ाई गई कि उनकी पत्नी अनुप्रिया पटेल भी संक्रमित हैं, लेकिन अनुप्रिया ने इस बात से साफ इंकार कर दिया और बताया कि वह पूर्ण रूप से स्वस्थ है और संक्रमित नहीं है।

टीकाकरण:

जनपद में किशोर-किशोरी के टीकाकरण का कार्य शुरू हो चुका है। 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों का टीकाकरण किया जा रहा है। जिसमें लगभग 4951 बच्चों को चौथे दिन टीका लगाया गया। टीकाकरण का कार्य बड़ा जोर-शोर से हो रहा है। ऐसे में टीकाकरण ही एक आखिरी उपाय है, जिससे हम इस बीमारी को रोक सकते हैं। साथ ही यह बात भी महत्वपूर्ण हो जाती है कि हम जहां भी जाएं वहां पर मास्क का प्रयोग करें एवं सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो करें।