प्राथमिकताओ एवं विकास कार्यो केे निरिक्षण हेतु नामित नोडल अधिकारी का चार दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम

शासन की प्राथमिकताओ एवं विकास कार्यो के प्रभावी अनुश्रवण एवं स्थलीय निरिक्षण तथा सभी विभागों का विशेष्णात्मक समीक्षा बैठक किया गया
 
dengue mirzapur
डेंगू मलेरिया से बचाव हेतु वाल पेंटिंग एवं जागरूकता पर दिया बल सभी शासकीय कार्यालयों भवन परिसर को साफ सुथरा एवं गंदगी मुक्त बनाये रखने का दिया निर्देश

मिर्ज़ापुर: शासन की प्राथमिकताओ एवं विकास कार्यो केे प्रभावी अनुश्रवण एवं स्थलीय निरीक्षण तथा जन समस्याओ का प्रभावी निराकरण सुनिश्चित कराने हेतु उत्तर प्रदेश शासन द्वारा नामित नोडल अधिकारी अनुराग यादव सचिव, नगर विकास के चार दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम के पश्चात जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार के साथ चिकित्सा, बाढ़ सहित सभी विभागो विशेषणात्मक की समीक्षा बैठक किया।

बारिश के मौसम में संक्रामक बीमारियो डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया एवं अन्य वेक्टर जनित रोगो के रोकथाम हेतु निरन्तर साफ-सफाई, एंटीलार्वल/फागिंग कार्यवाही हेतु मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा प्राथमिक से लेकर मण्डलीय चिकित्सालय में शिकायत/सुझाव सम्बन्धी नोटिस बोर्ड लगा हो जिस पर प्रभारी अधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी सहित मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नम्बर भी अंकित हो। उन्होने कहा कि सभी शासकीय अस्पतालो में कोई भी बाहर की दवा न लिखी जायें दवाओं की अनुउपलब्धता  होने पर तुरन्त शासन से आपूर्ति के लिये पत्राचार किया जायें। उन्होने जिलाधिकारी से सभी शासकीय अस्पतालो में एक-एक नोडल अधिकरी भेजने को कहा जो संक्रामक बीमारियो से ग्रसित मरीजो की अद्यतन स्थिति उन तक दवाओ की पहुॅच तथा संक्रामक रोगो के बचाव, उपचार एवं प्रचार प्रसार की स्थितियो पर निगरानी करते हुये यथा स्थिति से अवगत करायें। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि 07 सितम्बर से वायरल बुखार एवं स्वास्थ परीक्षण हेतु ’’डोर टू डोर सर्विलांस’’ कार्य होगा|

नोडल अधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को जिले में संचालित सभी डायनोग्स्टिक सेंटर एवं ब्लड बैंक को चेक करने का निर्देश दिया।   सभी अधिकारियो, कर्मचारियो से कहा कि आफिस से ही घर चलता है। अतः सभी शासकीय कार्यालय, भवन, परिसर को साफ सुथरा एवं जल जमाव व गंदगी मुक्त बनाये’’ शासकीय कार्यालयों में आम जनता के आवागमन व उनके स्वास्थ के दृष्टिगत भी साफ सफाई अनिवार्य हैं। नोडल अधिकारी ने साफ-सफाई के दृष्टिगत मुख्य विकास अधिकारी को जलकल एवं नगर पालिका सहित सभी विभागो में खराब पड़े/खड़े वाहनो की स्थिति का जायजा लेने का निर्देश दिया ताकि पता चल सके कौन-कौन से कितने वाहन खराब पड़े है व उनका दुरूपयोग न हो।

प्राथमिक से उच्च शिक्षा विभाग तक की समीक्षा करते हुये उन्होने अधिकारियो एवं अध्यापको से कहा कि चूकि अब विद्यालयो के खुलने से छात्रो के आवागमन एवं उनके स्वास्थ के दृष्टिगत विद्यालय परिसर एवं शौचालयो की साफ-सफाई, शुद्ध पेयजल व्यवस्था, मैदान एवं छतो पर कही भी जल जमाव न हो आदि बिन्दुओ को सुनिश्चित करें।

बाढ़/अतिवृष्टि की आपदा से निपटने हेतु बचाव व राहत कार्यो के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक करते हुये बाढ़ प्रबन्धन हेतु जिला प्रशासन द्वारा किये गये राहत कार्यो-अस्थायी शिविर, भोजन वितरण, आवश्यक समाग्री किट व फसल, मवेशी के नुकसान हेतु मुआवजा एवं अन्य यातायात सम्बन्धी व्यवस्थाओ का समीक्षा किया।

पंचायती राज एवं नगर विकास विभाग द्वारा किये गये स्वच्छता कार्य सालिड/लिक्विड बेस्ट मैनेजमेंट, झाड़ियो की साफ-सफाई, पेयजल व्यवस्था, सेनेटाइजेशन, फागिंग, कूड़ा उठान निस्तारण, ब्लीचिंग पाउडर छिड़काव, पेयजल के नमूनो की नियमित जाँच एवं नियमित क्लोरीन के टेबलेट का वितरण, शुद्ध पेयजल पाइपलाइन में लीकेज की नियमित जाँच, जिला पर्यावरण प्लान के अन्तर्गत जल एवं हवा की गुणवत्ता की जाँच को क्रियान्वित करने को कहा तथा अधिशाषी अधिकारी को निर्देशित करते हुए हैण्डबिल व वाल पेंटिंग द्वारा प्रचार प्रसार कर जागरूक करने एवं  पार्क पर अवैध कब्जे/रेस्टोरेंट पर तत्काल बुलडोजर चलाकर विधिक एवं दण्डात्मक कार्यवाही करने को कहा|

नोडल अधिकारी ने निराश्रित गोवंश हेतु गौ आश्रय स्थल के निर्माण/संचालन, आयुष्मान भारत योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना/राशन कार्ड/न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खाद्यान क्रय, गन्ना मूल्य भुगतान, प्रधानमंत्री आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, सड़क अनुरक्षण/नई सड़को का निर्माण, मुख्यमंत्री सामूहित विवाह योजना, समस्त पेंशन एवं छात्रवृत्ति योजना, कन्या सुमंगला योजना, बाल विकास पुष्टाहार पोषण अभियान, ट्रांसफार्मर का परिस्थापन , विद्युत आपूर्ति, विद्युल बिल से सम्बन्धित जन समस्याओ का निराकरण नहरो एवं राजकीय नलकूपो से सिंचिंत की जा रही भूमि नहरो की साफ-सफाई/पानी की उपलब्धता राजस्व वादो का निस्तारण, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, प्रधानमंत्री किसान फसल बीमा योजना, खाद एवं बीज की उपलब्धतता, एक जनपद एक उत्पाद योजना के अन्तर्गत कारपेट एवं पीतल उद्योग सहित 50 लाख से अधिक लागत की निर्माणाधीन परियोजनाओ का गहन विशेषणात्मक एवं क्रियात्मक समीक्षा किया। समीक्षा बैठक में मुख्य विकास अधिकारी लक्ष्मी वीएस, पुलिस अधीक्षक  अजय कुमार सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ पी0डी0 गुप्ता, प्रभागीय वनाधिकारी पी0एस0 त्रिपाठी आदि अधिकारी उपस्थित रहें।

रिपोर्ट- रवि यादव, जिला संवाददाता
मिर्ज़ापुर ऑफिशियल