समरसेबल से निकलने वाले पानी में लगी आग, मिर्ज़ापुर के राजगढ़ का अजीब क़िस्सा, जानिए पूरी घटना विस्तार से

क्या कभी आपने ऐसी खबर सुनी है कि पानी में ही आग लग गई? अगर नहीं, तो आज हमारी यह ख़ास खबर पढ़िए।

 
image source : news 18
पानी वाले समरसेबल से निकल रही है, लगातार भीषण आग।

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: अक्सर कभी-कभी हमें ऐसी खबर सुनने को मिलती है, जिसे देखकर आदमी किसी भी मूड में हो मूड एकदम से बदल जाता है और इंसान यह सोचने पर मजबूर हो जाता है कि आखिर यह हुआ कैसे? ऐसा ही एक किस्सा मिर्ज़ापुर के राजगढ़ में सुनने को मिला। एक किसान के खेत में जहां पर समरसेबल लगा है, समरसेबल से पानी तो आ रहा है, लेकिन पानी के साथ-साथ आग भी निकल रही है।

समरसेबल है या गीज़र?

जब व्यक्ति ऐसी कोई खबर सुनेगा, तो उसके मन में यही ख्याल आएगा कि पानी के साथ आग आ रही है यानी की समरसेबल से जो पानी निकल रहा है, वह गर्म पानी है, तो यह समरसेबल है या फिर गीजर?

रामपुर के एक गांव में बोरिंग का काम चल रहा था। तभी बोरिंग से निकलने वाली गैस में आग लग गई, जिसने सभी को हैरान कर डाला। किसान रामेश्वर पाल ने बताया कि उन्होंने खेत में डेढ़ साल पहले डीप बोरिंग करवाई थी, उस वक्त बोरिंग का काम सही तरीके से नहीं हुआ था, तो उसे बंद कर दिया गया था। शनिवार को रात में खेत में सरसों की फसल की सिंचाई की जा रही थी, तभी समरसेबल को दोबारा चालू किया गया। पानी निकलने के साथ इसमें गैस की गंध आने लगी, गैस की महक और तेज होने लगी। तभी समरसेबल से निकलने वाले पानी के पास किसी ने माचिस की तीली लगाई,  तो पानी में आग लग गई। इसके बाद लगातार पानी और आग दोनों ही समरसेबल से निकलते रहे, जिसके बाद समरसेबल को बंद कर दिया गया।

प्रधान को सूचना-

स्थानीय सुरेंद्र पाल सिंह ने बताया कि रात सिंचाई के लिए आए थे। तभी समरसेबल पंप चलाने पर गैस की गंध आने लगी, जब शंका हुई तो पास में माचिस जलाकर देखा गया तो, पानी के साथ-साथ आग भी निकल रही थी। उसके बाद समरसेबल को बंद कर दिया गया एवं गांव के प्रधान को इसकी सूचना दे दी गई।

ख़तरे की कोई बात नहीं-

जब मामला गंभीर होता दिखा तो खान अधिकारी केके राय को वहां बुलाया गया और इस बात की जांच करने को कहा गया। जांच करने पर केके राय ने बताया कि जमीन में बड़ी मात्रा में गैस नहीं है। थोड़ी बहुत जगह थी वह अब बाहर निकल रही है एवं एक-दो दिन में यह समस्या पूर्ण रूप से समाप्त हो जाएगी।