मिर्ज़ापुर में ATM Card से फ्रॉड करने वाले 3 युवक देर शाम गिरफ्तार, 82 कार्ड के साथ तमंचा भी बरामद

रोजमर्रा की तरह पुलिस शाम में शहर कोतवाली वासलीगंज चौराहे पर चेकिंग कर रही थी। तभी पुलिस को खबर पड़ी कि एटीएम से फ्रॉड करने वाले यह तीन युवक बरियाघाट के पास खड़े है। पुलिस ने घेराबंदी कर तीन आरोपी जिनका नाम आलम, लवकुश पांडे और पवन तिवारी को गिरफ्तार कर लिया।

 
image source : amar ujala
पुलिस ने इन आरोपियों का भंडाफोड़ किया।
मिर्ज़ापुर, Digital Desk: मिर्ज़ापुर में एटीएम कार्ड के जरिए फ्रॉड करने वाले तीन युवकों को देर शाम गिरफ्तार कर लिया गया। इन युवकों को रविवार देर शाम गिरफ्तार किया गया, इन तीनों को पकड़ने के बाद पुलिस को कई बातों का पता लगा, पुलिस चेकिंग के दौरान यह तीन युवक आ फंसे।

पुलिस चेकिंग:

रोजमर्रा की तरह पुलिस शाम में शहर कोतवाली वासलीगंज चौराहे पर चेकिंग कर रही थी। तभी पुलिस को खबर पड़ी कि एटीएम से फ्रॉड करने वाले यह तीन युवक बरियाघाट के पास खड़े है। पुलिस ने घेराबंदी कर तीन आरोपी जिनका नाम आलम, लवकुश पांडे और पवन तिवारी को गिरफ्तार कर लिया। यह तीनों आरोपी भदोही जिले से संपर्क रखते हैं, मिर्ज़ापुर में वह किसी दूसरे काम से आए थे।

आरोपियों के पास कई समान बरामद:

पुलिस ने जब इन तीनों आरोपियों को पकड़ा, तो उनके पास 82 एटीएम कार्ड, तीन मोटरसाइकिल, और दो तमंचे बरामद हुए। इसके साथ इनके पास लगभग ₹17000 तक का कैश भी था, 82 एटीएम कार्ड अलग-अलग बैंक के थे। पुलिस के मुताबित यह तीनों शातिर जालसाज थे।

जालसाज़ों का भंडाफोड़:

पुलिस ने इन आरोपियों का भंडाफोड़ किया। जांच के दौरान पता चला कि, यह तीनों आरोपी धोखे से व्यक्ति का कोड पूछ लेते थे और फिर एटीएम कार्ड बदलकर दूसरे एटीएम कार्ड उन्हें पकड़ा देते थे। ऐसा करके वह उनके एटीएम से हजारों लाखों रुपए निकाल लेते थे। आरोपियों ने बताया कि ऐसा करके उन्होंने गुजरात, छत्तीसगढ़, वाराणसी प्रयागराज, मिर्ज़ापुर और भदोही जैसे स्थानों पर यह फ्रॉड किया है। आलम फल विक्रेता है, पवन तिवारी का भाई ग्राम प्रधान है। बड़े समय से इनकी तलाश की जा रही थी, और अंततः इन तीनों को पुलिस ने पकड़ लिया गया।