Mirzapur Crime : शौच के लिए गई पत्नी के पास मंडराते प्रेमी को पति ने पीट-पीटकर मार डाला

एएसपी संजय वर्मा, सीओ प्रभात राय व प्रभारी कोतवाल सुशील कुमार के साथ पहुंचे, घटना स्थल की छानबीन की
 
mirzapur crime
पत्नी से अवैध संबंध की आशंका में आरोपित ने मारा

मिर्ज़ापुर: देहात कोतवाली क्षेत्र के बेलवरिया गांव में गुरुवार सुबह मॉर्निंग वाक पर निकले युवक की कुछ लोगों ने लाठी डंडे से पीट-पीटकर हत्या कर दी।

पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया, घटना से नाराज युवक के परिजनों ने अस्पताल मार्ग पर चक्का जाम करने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने समझा-बुझाकर हटा दिया।

बेलवरिया गांव निवासी 18 वर्षीय कृपाशंकर पुत्र मंगल बिंद प्रतिदिन की तरह सुबह लगभग 5:00 बजे टहलने निकला था, रास्ते में कुछ लोगों ने उसकी लाठी डंडे से पिटाई कर दी। किरतारतारा गांव के पास पहले से घात लगाकर बैठे तीन लोगों ने उसके ऊपर लाठी व राड से जानलेवा हमला बोल दिया।

घटना में कृपाशंकर गंभीर रूप से घायल हो गया, आरोपित उसे मृत समझकर भाग निकले। सुबह करीब छह बजे गांव के लोग रास्ते से गुजरे तो कृपाशंकर को सड़क किनारे लहूलुहान हाल में देखा तो इसकी सूचना उसके स्वजनों को दी आनन-फानन में उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। यहां उपचार के दौरान कुछ ही देर बाद उसकी मौत हो गई।

मौत से आक्रोशित परिजनों ने अस्पताल गेट पर चक्का जाम करने का प्रयास किया, लेकिन शहर कोतवाली पुलिस ने परिजनों को समझा-बुझाकर हटा दिया।

फिलहाल घटना का कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। इस संदर्भ में शहर कोतवाल अरुण कुमार दुबे ने बताया कि गांव के ही कुछ लोगों ने युवक की पिटाई कर दी थी। जिसकी उपचार के दौरान मौत हो गई, मामले की जांच की जा रही है प्रथम दृष्टया आशनाई का मामला लग रहा है।

ASP नगर संजय वर्मा ने बताया कि किरतारातारा गांव निवासी लालबहादुर को पिछले कुछ महीनों से शक था कि मृतक कृपाशंकर का उसकी पत्नी से अवैध संबंध चल रहा है।

इसीलिए वह बार-बार टहलने के बहाने उसके पाही तक आ रहा है। गुरुवार की सुबह उसकी पत्नी शौच के लिए गई थी उसके आसपास ही मृतक भी था, यह देख वह आक्रोशित हो गया और युवक को मारपीट कर घायल कर दिया। इसमें उसकी मौत हो गई। बीफार्मा की पढ़ाने करने के साथ एक मेडिकल पर कार्य करता था मृतक

कुरकुठिया पांडेय गांव निवासी कृपाशंकर बिद बीफार्मा की पढ़ाई नगर के घुरूहूपट्टी स्थित जीडी मेमोरियल कालेज से कर रहा था। इसके साथ ही अस्पताल रोड पर स्थित सिंह मेडिकल पर काम भी करता था। वह चार भाइयों में सबसे छोटा था।

रिपोर्ट- रवि यादव, जिला संवाददाता
मिर्ज़ापुर ऑफिशियल