मिर्ज़ापुर DM ने चेक की कोरोना संबंधित तैयारियां, नाईट कर्फ़्यू की अवधि बढ़ाई

मंडलायुक्त योगेश्वर राम मिश्रा एवं जिला अधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने सोमवार को कलेक्टोरेट स्थित इंटीग्रेटेड कोविड-19 एंड कंट्रोल सेंटर एवं निर्वाचन कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया।

 
image: india times

नाइट कर्फ्यू(Night Curfew) भी अब बढ़ा दिया गया है।

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: मिर्ज़ापुर ज़िले में (Mirzapur News) कोरोना संबंधित तैयारियों को लेकर डीएम और मंडलायुक्त द्वारा सर्वे किया गया। इस सर्वे के दौरान मंडलायुक्त ने कॉल सेंटर में रखे गए रजिस्टर तथा कंप्यूटर, ऑनलाइन प्राप्त शिकायतों, कोरोनावायरस की संख्या, होम आइसोलेशन एवं अस्पताल में भर्ती मरीजों के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त की।

विस्तार:

उपस्थित कर्मियों को निर्देश दिए गए हैं कि कोविड-19 (Corona Guideline) के संबंध में प्राप्त कॉल को तत्काल नोट करते हुए संबंधित अधिकारियों को उसे तुरंत अवगत कराना होगा। उन्होंने बताया कि कॉल सेंटर में प्रथम दोष लगवाने के बाद द्वितीय दोष के लिए लोगों को फोन करके तुरंत बुलाया जाए, ताकि शत-प्रतिशत Vaccination का कार्य पूरा कराया जा सके। ऐसे में कंट्रोल रूम से ग्रामों में भ्रमण करने वाले निगरानी समितियों की उपस्थिति एवं कार्य के बारे में जानकारी ली जाए उन्होंने बताया कि, आचार संहिता लागू हो चुकी है। इस बात को दृष्टिकोण में रखते हुए उद्दंडता टीम, वीडियो निगरानी टीम आदि को सक्रिय कर दिया जाए। कहीं से भी कंट्रोल रूम को आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए शिकायत प्राप्त हो तो तत्काल संबंधित टीम को यथा स्थान पर भेजने के लिए जानकारी दे दी जाए। निरीक्षण के दौरान अपर जिला अधिकारी शिव प्रताप शुक्ला, अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे अमरेंद्र कुमार वर्मा, नगर मजिस्ट्रेट विनय कुमार सिंह, डिप्टी कलेक्टर अश्विनी कुमार सिंह मौजूद रहे।

Night Curfew:

कोरोना(corona) की समस्या को देखते हुए शासन ने रात को कर्फ्यू का समय बढ़ा दिया है। ऐसे में अब रात 10:00 बजे से लेकर सुबह 6:00 बजे तक कर्फ्यू जारी रहेगा। जिसमें अब Curfew की अवधि कुल 8 घंटे की होगी। अभी तक नाइट कर्फ़्यू का समय रात 11:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक था। इसके बाद अब सभी शेक्षणिक संस्थाएं 16 जनवरी तक बंद रहेंगी, लेकिन ऑनलाइन क्लासेस की प्रक्रिया जारी होगी। सबसे महत्वपूर्ण बात है कि 15 से 18 वर्ष की आयु वाले बच्चों को एक अभियान के तहत टीकाकरण कराने का निर्देश दिया जाए और शत-प्रतिशत टीकाकरण की प्रक्रिया को पूरा किया जाए।

निर्वाचन कार्यालय:

आचार संहिता लागू होते ही विधानसभा चुनाव 2022 के लिए निर्वाचन कार्यालय में सरगर्मी में बढ़ती नज़र आ रही है। सोमवार को बड़ी संख्या में कर्मचारी अपनी सीटों पर काम करते हुए नजर आए। कई प्रकार की कमेटी का गठन की गई हैं।