Navaratri 2021 : नवरात्र के दौरान Vindhyachal गर्भ गृह में चरण स्पर्श पर सभी के लिये रोक : डीएम

मण्डलायुक्त व जिलाधिकारी ने पण्डा समाज के पदाधिकायिों के साथ बैठक कर मेला के तैयारियों के दृष्टिगत दिया दिशा निर्देश
 
navaratri 2021

बिना रिलीवर के आये कोई जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट अपने ड्यूटी से कही जायेगा नही मेला में 24 घण्टे राजपत्रित प्रशासनिक अधिकारी की उपस्थिति अनिवार्य  -मण्डलायुक्त


मिर्ज़ापुर, विन्ध्याचल आगामी 06 अक्टूबर 2021 की मध्य रात्रि से प्रारम्भ होने वाले शारदीय नवरात्र मेला के तैयारियो के  प्राशासनिक भवन विन्ध्याचल में मण्डलायुैत योगेश्वर राम मिश्र, जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने पण्डा समाज के पदाधिकारियो व स्थानीय लोगो के साथ बैठक कर नवरात्र मेला को सकुशल सम्पन्न कराने के लिये आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

मण्डलायुक्त ने कहा कि दूर दराज सें आने वाले यात्रियो के साथ चढ़ावे को लेकर किसी पण्डा के द्वारा जोर जबरदस्ती न किया जाये इसके लिये पण्डा समाज के सभी पदाधिकारी अपने समाज के लोगो को नियंत्रण में रखते हुये मर्यादित ढंग से श्रद्धालुओ को दर्शन कराने हेतु अवगत करायें। उन्होने कहा कि माँ विन्ध्यवासिनी देवी के साथ-साथ लोगो में पण्डा समाज के लोगो के प्रति भी आस्था हैं उसे बनाये रखें। प्राशासनिक अधिकारियो को निर्देशित करते हुये कहा कि जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट बिना अपने रिलीवर के आये हुये मेला से बाहर नही जायेंगे। ऐसी हरकतों से पण्डासमाज की छवि पर काफी बुरा असर होता है , इन बातों की पुनरावृत्ति न हो पण्डासमाज इसके लिए स्वयं में सुधार लाये ।

नवरात्र के दौरान चरणस्पर्श पर पूरी तरह से रोक रहंेगी यह सभी के लिये लागू होगा कोई भी पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी भी अपने जानने वालो को चरण स्पर्श नही करायंेगा। माँ के दरबार मे आने वाला हर श्रद्धालु एक बराबर होता है । मन्दिर के सम्बंध में छेड़छाड़ करके वीडियो बनाकर वायरल कर दिया जाता है , जिससे विश्व प्रसिद्ध धार्मिक स्थल विन्ध्याचल छबि खराब होती है। दर्शनार्थियों को प्रसाद इत्यादि की दुकानों से अधिक धन इत्यादि ले लेने की खबरे आती रहती है । इसलिए सभी दुकानों पर मूल्य सूची लगी होनी चाहिए । छोटी-छोटी घटनाओं से सम्मान बनता व विगड़ता है । हम यह चाहते है कि जो भी बाहरी श्रद्धालु यहां आता है यहाँ के बारे में अच्छी साफ सुथरी छवि को अपने यहाँ जाकर प्रदर्शित करे ।

होटल , धर्मशालाओं में भी मूल्य सूची सार्वजनिक होनी चाहिए । यह संदेश समस्त पण्डासमाज के लोगो तक आपके माध्यम से पहुंचनी चाहिए । गंगाघाटों पर बाहर से आने वाले अनजान लोगों को गुमराह कर लोग इधर उधर घुमा देते है, ऐसा कदापि नही होना चाहिए । कोरोना से भी सावधानी बरतें स्वयं सुरक्षित रखें और आने वालों को भी जागरूक करें । सफाई कार्य को प्रभावित करने वालों पर होगी कार्यवाई , सड़कों व गलियों में दुकानदार काफी ज्यादा अतिक्रमण कर लेते है । वाहन स्टैण्डों पर निर्धारित मूल्य से अधिक की वसूली कर लेते है । सीसीटीवी कैमरे सही ढंग से काम करे यह सुनिश्चित किया जाय । गंगानदी में जलस्तर काफी ज्यादा है, ऐसी स्थिति में नाव इत्यादि से कोई उस पार अथवा बैरिकेडिंग के बाहर जाकर स्नान न करें । यह तमाम बिंदुओं को सुनिश्चित किया जाए । हम चाहते है बेस्ट पुलिसिंग व्यवस्था हो । पण्डासमाज समाज मे अगर कोई भी मतभेद हो तो वह मन्दिर से दूर ही रहे । प्रभारी पुलिस अधीक्षक ने कहा कि मन्दिर को छवि खराब करने वालों पर कठोरतम कार्यवाही की जायंेगी। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी शिव प्रताप शुक्ल, अपर पुलिस अधीक्षक संजय वर्मा, नगर मजिस्ट्रेट विनय कुमार सिंह, क्षेत्राधिकारी सदर प्रभात राय के अलावा पण्डा समाज के अध्यक्ष पंकज द्विवेदी, अवनीश कुमार मिश्रा, केजन गिरी, गुन्जन मिश्रा, भानु पाठक, राज मिश्रा, विभूति नारायण मिश्रा के अलावा अन्य सभी अधिकारी उपस्थित रहें।

रिपोर्ट- रवि यादव, जिला संवाददाता
मिर्ज़ापुर ऑफिशियल