अब ग्रामीण निवासियों को एक छत के नीचे ही मिलेगी सभी चीज़ की जानकारी, गाँव में ही होगी व्यवस्था

ग्रामीणों को अब छोटी मोटी चीज़ की जानकारी हेतु ब्लॉक मुख्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। बल्कि गांव में ही एक छत के नीचे ब्लॉक से समस्त सभी जानकारी उपलब्ध करा दी जाएगी।

 
image: india spend
करोना नियंत्रण के लिए गांव में निगरानी समिति का गठन।

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: ग्रामीणों को छोटी मोटी जानकारी के लिए ब्लॉक मुख्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। क्योंकि गांव में ही अब एक छत के नीचे ब्लॉक के समस्त अधिकारी सभी जानकारियां, उन्हें उपलब्ध कराते रहेंगे। इस बात की पुष्टि सहायक विकास अधिकारी पंचायत सिटी प्रदीप कुमार सिंह ने बृहस्पतिवार को दी। दरअसल वे भरुना गांव पंचायत सहायक कार्यालय के लोकार्पण के दौरान मौजूद ग्रामीणों को संबोधित करते हुए, उन्होंने इस बात की जानकारी दी।

विस्तार:

एडीओ पंचायत की मौजूदगी में कोरोना नियंत्रण के लिए घरों में निगरानी समिति का गठन किया गया। एडीओ पंचायत ने कहा कि निगरानी समिति महामारी से बचाव के लिए लोगों में जागरूकता बढ़ाते हुए मेडिकल किट का वितरण करेंगे। ऐसे में क्वॉरेंटाइन या फिर हम आइसोलेशन वाले मरीजों की बिक्री की जाएगी। इस दौरान ग्राम प्रधान राज कुमार सिंह चौहान, सचिव सुजीत कुमार सिंह, बीसी विभा बिंद, पंचायत सहायक अनन्या सिंह, स्वच्छता ग्राही रेखा मौर्य, कोटेदार लक्ष्मीनारायण चौहान, आशा विंद मौर्य, किरण सुनकर, सुखराजी, अर्चना देवी, सहित आंगनबाड़ी के कार्यकर्ता भी मौजूद रहे।

इस प्रोटोकॉल को फॉलो करना इसलिए अति आवश्यक हो जाता है, क्योंकि मिर्ज़ापुर ज़िले एवं उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों में संक्रमण बड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है। जिसके चलते अब प्रशासन अपनी कमर कस रहा है। खास बात यह है कि, चुनाव भी सर पर है। ऐसे में चुनाव का आयोजन भी कराना है एवं ग्रामीणों की सुरक्षा का ख्याल भी रखना है। इसीलिए इस बात के लिए उन्हें जागरूक करना अति आवश्यक बन जाता है। फिलहाल मिर्ज़ापुर जिले में एक्टिव केस की संख्या बढ़ती जा रही है। गुरुवार को तो ज़िले में एक ही दिन में 50 मरीज के लगभग संक्रमित पाए गए, ऐसे में लोगों को इसके प्रति सचेत करना आवश्यक हो गया है।