Lakhimpur Kheri पहुँच Priyanka Gandhi ने पीड़ितों के आँसू पोछे : प्रमोद तिवारी

आखिरकार राज्य सरकार को झुकना पड़ा और Priyanka Gandhi Vadra को बिना शर्त छोड़ना पड़ा - प्रमोद तिवारी
 
pramod tiwari
10 अक्टूबर 2021 को वाराणसी में आयोजित होने वाली प्रतिज्ञा रैली में शामिल होने के लिए लोगों का आह्वान किया

मिर्ज़ापुर, विन्ध्याचल : मिर्ज़ापुर पहुँचे राज्यसभा सदस्य Pramod Tiwari ने कहा कि Lakhimpur Kheri में विरोध-प्रदर्शन कर लौट रहे किसानों पर गाड़ियों से टक्कर मारी गई जिससे कई किसानों की मौत हो गई। साथ ही कई लोग गंभीर रूप से घायल होकर जीवन-मौत के बीच संघर्ष कर रहे हैं।

lakhimpur kheri news

उनके आंसू पोंछने के लिए कांग्रेस महासचिव Priyanka Gandhi Vadra दिल्ली से तत्काल निकल गईं, लेकिन पुलिस ने उन्हें हिरासत में रखा। ऐसे में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के शांति पूर्ण संघर्ष के कारण आखिरकार राज्य सरकार को झुकना पड़ा और Priyanka Gandhi Vadra को बिना शर्त छोड़ना पड़ा। वह एक बार फिर शक्ति की प्रतीक बनकर उभरी हैं।
lakhimpur kheri PRIYANKA GANDHI
इसके पहले भी सोनभद्र की घटना रही हो या फिर हाथरस का प्रकरण, Priyanka Gandhi Vadra के तेवर के सामने प्रदेश सरकार को झुकना पड़ा है और वह अपनी प्रतिज्ञा पूरी करके ही वापस लौटी हैं।
PRIYANKA GANDHI INlakhimpur kheri

मीडिया को सम्बोधित करते हुए केंद्रीय कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्य Pramod Tiwari ने 10 अक्टूबर 2021 को वाराणसी में आयोजित होने वाली प्रतिज्ञा रैली में शामिल होने के लिए लोगों का आह्वान किया। साथ ही कहा कि प्रतिज्ञा रैली में सरकार के जनविरोधी कार्यों को जनता के सामने लाया जाएगा जिससे 2022 में उसे सत्ता से बेदखल किया जा सके।
RAHUL GANDHI lakhimpur kheri news

सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि सरकार के अन्याय को देखते हुए घटना का न्यायालय ने स्वत: संज्ञान लिया है। इसमें आरोपितों को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है। जबकि केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के इस्तीफे के साथ ही उनके बेटे समेत सभी दोषियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

बातचीत के क्रम में मामलों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाते हुए Pramod Tiwari चिंता ज़ाहिर की और कहा कि अफगानिस्तान में तालिबान हुकूमत आने के बाद से कश्मीर में आंतरिक सुरक्षा बढ़ाई जानी चाहिए।