ज़िले में सफाई कर्मियों ने किया ज़बरदस्त प्रदर्शन, मरी हुई बिल्ली को बैंक में फेंका

मिर्ज़ापुर जिले में सफाई कर्मियों का आक्रोश अपनी चरम सीमा पर है। जिसके बाद उन्होंने दोपहर में हंगामा मचा कर रख दिया।

 
image: amar ujalaa
मरी हुई बिल्ली को बैंक में लाकर फेंक दिया।

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: उत्तर प्रदेश के मिर्ज़ापुर जिले में सत्यागंज नाम की जगह पर इंडियन बैंक का एक शाखा है। जहां पर उनका काम नहीं होने की वजह से नगर पालिका की सफाई कर्मियों ने गुरुवार दोपहर को जमकर हंगामा किया। पहले तो नगरपालिका के सफाई कर्मियों ने जमकर हंगामा किया। इससे भी उनका मन नहीं भरा, तो उन्होंने बैंक के अंदर मरी हुई बिल्ली फेंक दी। बैंक के बाहर सड़क पर ट्रैक्टर खड़ा करके मार्ग अवरुद्ध कर दिया, मौके पर पुलिस पहुंची।

विस्तार:

दरअसल, सफाई कर्मी भुगतान की रकम निकालने हेतु गुरुवार की सुबह बैंक पहुंचे। जब उन्हें पता चला कि सरवर नहीं चल रहा है, जिसकी वजह से काम प्रभावित हो रहा है, तो इस बात से परेशान और आक्रोशित होकर सफाई कर्मियों दोपहर में दो ट्रैक्टर पर सवार होकर इंडियन बैंक की शाखा पर पहुँचे और हंगामा शुरू कर दिया।

सड़कों की दोनों तरफ ट्रैक्टर लगाकर सड़क जाम कर दिया और आक्रोश जाहिर करने के लिए बैंक के अंदर मरी हुई बिल्ली फेंक दी। बैंक कर्मियों ने इसकी जानकारी पुलिस और उच्चाधिकारियों को दी। इतना ही नहीं बैंक के बाहर निकल कर सफाई कर्मियों ने सड़क पर झाड़ू रखकर प्रदर्शन किया।

देर शाम को जोनल अधिकारी की टीम बैंक पहुंची तथा मौके पर पालिका अध्यक्ष गुलाब मौर्य से वार्तालाप किया। बैंक शाखा के कर्मियों ने बताया कि सरवर की समस्या काफी दिन से बनी हुई है। बैंक के उच्च अधिकारी तथा आईटी विभाग ने इस मामले का पूरा संज्ञान लिया, लेकिन कोई समाधान नहीं हो सका है।

दरअसल भुगतान की रकम कर्मियों के अकाउंट में हफ्ते भर पहले भेज दी गई थी। वेतन भुगतान की सूची के अनुसार नगर पालिका के सफाई कर्मियों को बताया गया कि उनकी तनखा 5 जनवरी को ही बैंक में भेज दी गई है। लेकिन वह पैसे उनके बैंक में अभी तक क्रेडिट नहीं हुए जिस बात के लिए वह बैंक पहुंचे थे और पैसा न मिलने पर उन्होंने विरोध प्रदर्शन किया।