आसरा आवास की गुणवत्ता में कमी को देखकर जिलाधिकारी ने जेई तथा ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड करने की दी चेतावनी

जिलाधिकारी प्रवीण कुमार ने आसरा योजना के तहत बन रहे आवासों का किया स्थलीय निरीक्षण 
 
डीएम

 2 अलग जगहों पर कुल 48 आवास बनाए जाने के लिए डूडा ने कार्यदायी संस्था को 259.37 लाख रूपए दिया है


मिर्ज़ापुर: जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने नगर पंचायत कछवा में आसरा योजनान्तर्गत निर्माणाधीन आवासों का स्थलीय निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान परियोजना अधिकारी डूडा, जिला सूचना अधिकारी, अधिशाषी नगर पंचायत कछवा, कार्यदायी संस्था सीएण्डडीएस, उप्र जल निगम के जेई तथा सम्बन्धित ठेकेदार उपस्थित रहें। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने आवासों के गुणवत्ता में कमी और निर्माण कार्य की देरी होने के कारण में कार्यदायी संस्था के जेई तथा ठेकेदार को कड़ी फटकार लगाई है।
 


निरीक्षण के दौरान परियोजना अधिकारी ने बताया कि 2 अलग- अलग जगहों पर कुल 48 आवासों को बनाया जाना है जिसके लिए डूडा कार्यदायी संस्था को 259.37 लाख रूपए दे चुकी है। अब इतने पैसे देने के बाद भी कार्यदायी संस्था का धीरे- धीरे काम करना वो भी खराब सामग्री के साथ जिलाधिकारी को रास ना आया। 

जिलाधिकारी निर्माण कार्य में इस तरह की लापरवाही बरतने के लिए कार्यदायी संस्था के जेई तथा ठेकेदार को कड़ी फटकार तो लगाई है साथ ही उन्हें कड़ी चेतावनी भी दी है कि अगर उन्होंने दिए गए समय में कार्यों को पूरा ना किया तो ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड कर दिया जायेगा।  

कार्यदायी संस्था ने कहा कि 24 आवास कम्पलिट होने के कगार पर जो सितम्बर माह के अन्त तक सौंप दिये जायेंगे एवं निर्माणाधीन 24 आवास नवम्बर माह तक पूर्ण कर लिए जायेंगे। 

जिलाधिकारी ने परियोजना निदेशक डूडा को निर्देश दिया कि 15-15 दिन में आकर कार्यो में पूरे हुए कार्यों की प्रगति की फोटो एवं वीडियो बनाकर उन्हें अवगत कराते रहे।

रिपोर्ट- रवि यादव, जिला संवाददाता
मिर्जापुर ऑफिशियल