Molestation in Mirzapur: मिर्ज़ापुर मंडलीय अस्पताल में Sweeper द्वारा महिला मरीज़ से छेड़छाड़ की कोशिश, जमकर हुआ हँगामा

मिर्ज़ापुर के मंडली अस्पताल में एक महिला बीमारी के कारण भर्ती थी। उस महिला के साथ वहां के एक स्वीपर ने छेड़छाड़ करने की कोशिश की जिसके बाद जमकर हंगामा हुआ।

 
patrika

गुस्से में परिजनों ने शीशा फोड़ा।

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: मिर्ज़ापुर मंडलीय अस्पताल में एक स्वीपर ने महिला से छेड़छाड़ करने की कोशिश की, अगर ध्यान नहीं दिया जाता तो यह छेड़छाड़ किसी बड़ी घटना को भी स्वरूप दे सकती थी। एक महिला वहां उस अस्पताल में बीमारी के कारण भर्ती थी, तभी वहां के स्वीपर ने इस मौके का फ़ायदा उठाने का सोचा।

क्या है पूरी घटना:

लालगंज क्षेत्र में रह रही यह महिला निवासी सांस फूलने की समस्या से कई दिनों से परेशान चल रही थी। तबीयत बिगड़ने पर महिलाओं को उसके परिजनों द्वारा मंडलीय अस्पताल ले आया गया एवं उसे अस्पताल के सीसीयू कक्ष (Coronary Care Unit) में भर्ती कराया गया।

नशे में था स्वीपर:

महिला को सीसीयू कक्ष में भर्ती कराया गया था। तभी अचानक वहां दोपहर के समय स्वीपर चला आया, स्वीपर नशे में था और उसने कक्ष से महिला के परिजनों को बाहर कर दिया और मुख्य गेट भी बंद कर दिया। स्वीपर ने बहाना बनाया की पेशाब की नली बदलनी है, जिसकी वजह से परिजनों को कमरे से बाहर जाना होगा।

पेशाब की नली लगाने के बहाने व महिला से छेड़खानी करने लगा। महिला ने इस बात का विरोध किया और स्वीपर को कक्ष से बाहर निकाल दिया। परिजनों को भी जब इस बात का शक हुआ तो उन्होंने हंगामा करना शुरू किया। वहीं नर्स और बाकी स्टाफ के लोग आए, जिन्होंने स्वीपर को जमकर फटकारा, लेकिन स्वीपर उनसे भी भिड़ गया। हंगामा करते हुए मुख्य गेट का शीशा भी तोड़ दिया गया।

अस्पताल अधिकारी का बयान:

अस्पताल के अधिकारी डॉक्टर आलोक ने भी बयान दिया की स्वीपर नशे में था एवं तत्काल प्रभाव से उसे नौकरी से भी निकाल दिया गया है। महिला के परिजन चाहे तो लिखित तहरीर देते हुए कार्रवाई के लिए पुलिस को बुला ले, ताकि स्वीपर को कड़ी सजा मिल सके।