बदल सकता है जनपद मिर्ज़ापुर का नाम, जिले के एक संगठन ने सीएम योगी को लिखा पत्र

अंग्रेजों ने जिले को दिया मिर्ज़ापुर नाम, भारतीय सवर्ण संघ ने नए नामकरण के लिए भेजा है प्रस्ताव
 
mirzapur station

मिर्ज़ापुर : उत्तर प्रदेश में जब से भाजपा की सरकार बनी है तब से सीएम योगी ने अपने उत्तर प्रदेश को पूरी तरह से बदलने की जो शुरूआत की है अभी तक चल रहा है। सीएम योगी ने पहले इलाहाबाद का नाम बदलकर "प्रयागराज" किया अब इसमें यूपी के अलीगढ़ और मैनपुरी पहले इस लिस्ट में शामिल हो चुके है अब इनके बाद जनपद मिर्ज़ापुर का भी नाम जुड़ गया है। 

यूपी में जनपदों के नाम बदलने की कवायद एक बार फिर से शुरू होती नज़र आ रही है जिसमें मिर्ज़ापुर का भी नाम बदलने की मांग उठ रही है। जानकारी के मुताबिक मिर्ज़ापुर जनपद का नाम बदल कर "विंध्याचल नगर" करने की माँग एक संगठन द्वारा की गयी है। भारतीय सवर्ण संघ के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिख कर मिर्ज़ापुर जनपद का नाम बदल कर विंध्याचल नगर करने की मांग की है। संघ के वरिष्ठ अधिकारी अवधेश सिंह ने कहा कि "बाहर दूसरे प्रदेशों में मिर्ज़ापुर को कोई नही जानता, जब हम लोग विंध्याचल का नाम बताते है तो यह नाम सभी जानते है जनपद का नाम बदल कर विंध्याचल के नाम पर रखा जाये"।

बता दें कि आज शुक्रवार को भारतीय सवर्ण संघ ने डीएम के माध्यम से राज्य सरकार को मिर्ज़ापुर का नाम बदलने के लिए प्रस्ताव भेजा है। भारतीय सवर्ण संघ का कहना है कि पहले मिर्ज़ापुर का नाम पंपापुर था।


कैसे पड़ा मिर्ज़ापुर नाम

अगर इस नाम के इतिहास में जाए तो 17वीं शताब्दी में जब ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी ने भारत में अपना वर्चस्व स्थापित किया तब कलकत्ता से लेकर दिल्ली तक कंपनी का कारोबार फैलता ही जा रहा था तब कंपनी के अफसरों को मध्य भारत में भी अपना व्यापार फ़ैलाने की के लिए अंग्रेजी अफसरों को गंगा के रास्ते में पड़ने वाले लगभग सभी नगरीय क्षेत्रों की जांच की तब उन्हें विंध्याचल एवं गंगा की गोद में फैला विंध्यक्षेत्र पसंद आ गया तब 1735 ईसवी में लार्ड मर्क्यूरियस वेलेस्ले नाम के एक अंग्रेजी अफसर ने इसका नाम मिर्ज़ापुर रख दिया।

पहले भी हुई था नाम बदलने की मांग

मिर्जापुर के भारतीय सवर्ण संघ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अवधेश सिंह ने कहा कि "विंध्याचल एक प्राचीन नगरी है जिसके नाम से हम लोगों को सारा देश जानता है तो अब हम मिर्ज़ापुर से नाम बदलकर "विंध्याचल नगर" चाहते हैं। राज्य सरकार को अब इसे मंजूरी देनी है। मिर्ज़ापुर का नाम बदलने के लिए 2015 में भी एक बार मांग उठी थी जिसे हमने पुनर्जीवित किया है।"

रिपोर्ट- रवि यादव, जिला संवाददाता
मिर्ज़ापुर ऑफिशियल