Vindhyachal : नवरात्रि मेले में केवल सशरीर नहीं बल्कि मन ड्यूटी करें अधिकारी -डीएम

जिलाधिकारी ने नवरात्रि मेले के तैयारियो की बैठक कर ली जानकारी

 
dm mirzapur
घाटो पर पर्याप्त बैरीकेटिंग गोताखोर लाइफ जैकेट की हो व्यवस्था


मिर्ज़ापुर : मां विन्ध्यवासिनी के धाम विन्ध्याचल में आगामी शारदीय नवरात्रि 2021 के तैयारियों के सम्बन्ध में डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार व पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह ने सम्बन्धित अधिकारियो वकार्यदायी एजेंसियो के अधिकारियो के साथ बैठक कर नवरात्रि मेला के समस्त तैयारियोको समय से पूर्ण कराने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने अधिकारियो को निर्देशित करते हुये कहा कि "मां विन्ध्यवासिनी के धाम में देश व प्रदेश के विभिन्न प्रांतों से श्रद्धालु माँ का दर्शन करने आते है, हम सभी अधिकारियों का सौभाग्य है कि माँ के धाम में सेवा करने का अवसर मिला है।"

जिलाधिकारी ने कहा कि नवरात्रि मेले में प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी केवल सशरीर ही नहीं बल्कि मन से ड्यूटी करें तथा दूर दराज से आने वाले श्रद्धालुओ/दर्शनार्थियो को सुचारू ढंग से मां कादर्शन करायें। साथ ही यह भी कहा कि गंगा नदी में पानी के बहाव के दृष्टिगत घाटों पर पर्याप्त व मजबूज बैरीकेटिंग लगायी जायें तथा पूरे घाट पर समुचित प्रकाश वसफाई व्यवस्था सुनिश्चित करायी जायें। 

घाट पर स्पेशलिस्ट गोताखोर की तैनाती के साथ लाइफ जैकेट 03 एम्बुलेंस अलग-अलग स्थानो पर लगाया जाये ताकि मेले के दौरान कोई भी अप्रिय घटना घटित न होने पायें। उन्होने कहा कि मेलाक्षेत्र व मन्दिर परिसर में दर्शनार्थियो की सुविधा के दृष्टिगत पर्याप्त बैरीकेटिंग करायी जाये तथा पुलिस बल की व्यवस्था सुनिश्चित की जायें। आगे कहा कि घाटों के अलावा पूरे मेला क्षेत्र में एनांउसमेन्ट की व्यवस्था करायी जायें।

जिलाधिकारी ने सफाई व्यवस्था के दृष्टिगत मेला क्षेत्र के समस्त दुकानदारों से अपील करते हुये कहा कि अपने दुकान के सामने डस्टबिन अवश्य रखा जायें, दुकान के सामने डस्टबिन न पाये जाने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी।

मेला क्षेत्र में भीड़ एवं वाहनो के नियंत्रण हेतु यथा स्थान मेला प्रारम्भ होने के पूर्व ही बैरियरो को लगवाया जाये तथा आने वाले वाहनों को मेला के बाहर ही रोककर खड़ाकरने की व्यवस्था की जायें। तीनों मन्दिर परिसर की गलियों व सीढियों पर से अतिक्रमण हटवाने के लिये नगर मजिस्ट्रेट व क्षेत्राधिकारी नगर को निर्देशित किया गया।

अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका को निर्देशित करते हुये कहा कि मेला क्षेत्र के गलियो में सफाई व्यवस्था, अस्थायी पेयजल व्यवस्था हेतु टैंकरो की उपलब्धतता, खराब हैंडपंपों, नलो की मरम्मत के साथ टोटियों को बढ़ाये जाने की व्यवस्था, दुर्गन्ध हेतु स्थलो यथा नालियो, नालों में आदि का छिड़काव, आवारा पशुओ कोपकड़वाने की व्यवस्था कराने के निर्देश दियें। 

अपर मुख्य अधिकारी को मेला क्षेत्र में नगर पालिका के बाहर की व्यवस्थाओ के लिये निर्देशित किया गया। विद्युत विभाग को जर्जर तारों, खंभो, विद्युत आपूर्ति आदि के निर्देश दिये गये।

 डीएम ने कहा कि जिस अधिकारी को दायित्व सौपा गया है पूरे लगन व निष्ठा से निर्वहन करें किसी स्तर पर लापरवाही बर्दाशत नही की जायेगी। वहीं पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह ने कहा कि मन्दिर के आने जाने वाले मार्गो के चैड़ीकरण के दृष्टिगत पर्याप्त मात्रा में बैरीकेटिंग तथा पुलिस व्यवस्था तैनाती की जायेगी। मेला को सुचारू ढंग से सम्पन्न कराने हेतु पुलिस विभाग द्वारा पूरेमेला क्षेत्र को आठ ज़ोन में विभक्त करते हुये पुलिस अधिकारियो की तैनाती की जायेगी।

रेलवे स्टेशन, बस स्टापो पर आने वाले श्रद्धालुओ की संख्या पर सर्तकदृष्टि व भीड़ नियंत्रण हेतु रास्ते विभक्त किये जाने का सुझाव भी दिया। उन्होने कहा कि मेला क्षेत्र में पुलिस कंट्रेाल रूम एवं खोया पाया शिविर की स्थापना के साथ ही महिला पुलिस एवं महिला होमगार्डो पर्याप्त संख्या में तैनाती की जायेगी।

रिपोर्ट- रवि यादव, जिला संवाददाता
मिर्ज़ापुर ऑफिशियल