ड्यूटी में तैनात जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट किसी भी दशा में मोबाइल मेला अवधि में बंद नहीं रखेंगे : डीएम

06-07 अक्टूबर से 14 अक्टूबर 2021 तक प्रतिदिन विध्याचल स्थित जिला मजिस्ट्रेट कैंप कार्यालय में बैठक में शाम 07 बजे शामिल होंगे।
 
mirzapur news
नवरात्र मेला शांतिपूर्ण व सकुशल संपन्न कराने के लिए डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार ने निर्देश दिया


मिर्ज़ापुर, विन्ध्याचल : मां विध्यवासिनी धाम में शारदीय नवरात्र मेला शांतिपूर्ण व सकुशल संपन्न कराने के लिए डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार ने निर्देश दिया, कहा कि "जगत जननी मां विध्यवासिनी के दर्शनार्थ देश के कोने-कोने से आने वाले श्रद्धालुओं को अपने स्तर से दर्शन कराने में अमूल्य योगदान देकर देवी मां का आशीर्वाद प्राप्त करें। मेला ड्यूटी में तैनात जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट किसी भी दशा में मोबाइल मेला अवधि में बंद नहीं रखेंगे"।

किसी कारणवश मोबाइल बंद होता है, तो दूसरे नंबर को तत्काल मजिस्ट्रेट को जानकारी देंगे, किसी भी त्रुटि के लिए स्वयं जिम्मेदार होंगे। अगली पाली के जोनल अथवा सेक्टर मजिस्ट्रेट के आने के बाद ही ड्यूटी पर तैनात मजिस्ट्रेट अवमुक्त होंगे। अगली पाली के मजिस्ट्रेट के अनुपस्थित होने पर इसकी सूचना अपने जोनल मजिस्ट्रेट को देंगे। उनका निर्देशन प्राप्त करके ही अग्रिम कार्रवाई करेंगे।

डीएमने कहा कि सभी जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट अपने जोन से संबंधित पुलिस अधिकारियों के साथ सामंजस्य बनाकर कार्य करेंगे। 06-07 अक्टूबर से 14 अक्टूबर 2021 तक प्रतिदिन विध्याचल स्थित जिला मजिस्ट्रेट कैंप कार्यालय में बैठक में शाम 07 बजे शामिल होंगे।

सभी प्रशासनिक मजिस्ट्रेट अपने-अपने क्षेत्र में शांति व्यवस्था के लिए उत्तरदायी होंगे। विशेष रूप से भीड़ वाले स्थानों पर पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था, बैरिकेडिग तथा दर्शनार्थियों के लिए सुचारू एवं व्यवस्थित आवागमन हेतु समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे। किसी भी स्तर पर कोई समस्या आने पर तत्काल जोनल अथवा सेक्टर मजिस्ट्रेट उक्त स्थल पर पहुंचकर समस्या का निराकरण करेंगे।

मेला मजिस्ट्रेट अथवा कंट्रोल रूम को स्थिति से अवगत कराएंगे। जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट अपने संबंधित जोनल व सेक्टर पुलिस अधिकारी के साथ रहेंगे। शांति व्यवस्था से संबंधित आवश्यक कार्रवाई संयुक्त रूप से करेंगे। सभी दुकानदार अपने दुकानों के सामने साफ-सफाई सुनिश्चित करेंगे तथा डस्टबीन अवश्य रखें। प्रसाद बेचने वाले दुकानदार नगर मजिस्ट्रेट एवं दुकानदारों की संयुक्त बैठक में लिये गए निर्णय के अनुसार प्रसाद मूल्य की सूची दुकान पर लगाएंगे। निर्धारित मूल्य पर ही दर्शनार्थियों को प्रसाद की बिक्री करेंगे। अन्यथा अधिक मूल्य लेने की शिकायत मिलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

रिपोर्ट- रवि यादव, जिला संवाददाता
मिर्ज़ापुर ऑफिशियल