Social Media पर लोगों ने दिव्यांग Kapil के लिए लगाई मदद की गुहार, 2.5 घंटे में मिली मदद

सोशल मीडिया पर एक दिव्यांग कपिल को दिवाली पर दुकान लगाने नहीं दी जा रही थी, जिसके बाद उसने मदद की गुहार लगाई।

 
image source : hindustan times

Social Media की ताकत।

Lucknow, Digital Desk: यह पूरा मामला लखनऊ का है। दिव्यांग कपिल को दिवाली पर भूतनाथ मार्केट में दुकान लगाने नहीं दी जा रही थी। कपिल अपनी बेटी के लिए दिवाली पर खरीदारी करना चाहता था, बाद में वह बुधवार को रोते हुए कलेक्टर के पास गया।

रोते हुए Collector से लगाई मदद की गुहार:

दिव्यांग कपिल रोते हुए मदद की गुहार लगाते हुए कलेक्टर के पास पहुंचा। मामला पुलिस से तालुख रखता था, इसीलिए उससे संबंधित पत्र एसपी को लिखा गया। जिसके बाद शाम तक पुलिस ने कपिल को संपर्क किया गया। क्योंकि सोशल मीडिया पर उसकी फोटो वायरल कर दी गई थी।

पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने पीआरओ नितिन यादव को कपिल से वार्तालाप करने को कहा। जिसके बाद पता चला कि कपिल को स्थानीय लोगों ने मना किया था। उनका कहना था कि, पुलिस और नगर निगम की ओर से पटरी दुकानदारों के लिए निर्धारित स्थान दिया गया है, वह अपनी दुकान वही लगा सकते हैं।

दोनों पैर है खराब:

कपिल के दोनों पैर खराब है और वह इस बार दिवाली में अपनी बेटी के लिए कुछ खरीदना चाहता था। ऐसे में उसने सोचा कि भूतनाथ मार्केट में सुतली-रुई की दुकान लगाकर थोड़े पैसा जमा कर ले। उसने दो दिनों तक प्रयास किया लेकिन लोगों ने उसे भगा दिया। इसके बाद मजबूरन दिव्यांग कपिल को कलेक्टर के पास जाना पड़ा।

 कलेक्टर ने जब उससे उसकी परेशानी का हाल पूछा तो उसने अपनी व्यथा बताई। इसी बीच किसी ने उसकी फोटो ट्विटर पर वायरल कर दी, इसके बाद कई लोगों ने पुलिस कमिश्नर को टि्वटर पर टैग किया और दिव्यांग कपिल की मदद करने की गुहार लगाई।