BCCI ने लगाया भारतीय टीम पर प्रतिबंध, केवल हलाला सर्टिफाइड मीट ख़ाने की इजाज़त, बीफ़ और पोर्क बैन

ट्विटर पर बीसीसीआई के खिलाफ उठा जनाक्रोश, बाद में बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष की ओर से आई सफाई।

 
image source : pininterest

बीफ़ और पोर्क खाने पर विवाद।

Digital Desk: भारतीय क्रिकेट बोर्ड यानी कि बीसीसीआई विश्व की सबसे अमीर बोर्ड है। ज़ाहिर सी बात है भारत में क्रिकेट को लेकर लोगों के बीच एक गज़ब का उत्साह और इमोशन है। ऐसे में भारतीय टीम में होने वाली छोटी से छोटी एवं बड़ी चीज़ों पर लोग अपनी प्रतिक्रिया जरूर देते हैं। ऐसा ही कुछ हाल ही में हुआ जहां लोगों ने बीसीसीआई के इस फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया दी।

BCCI का फ़ैसला:

हाल ही में एक रिपोर्ट के बाद माने तो बीसीसीआई ने अपने भारतीय खिलाड़ी के भोजन पर कुछ प्रकार के प्रतिबंध लगाया। BCCI ने अपने खिलाड़ियों को यह आदेश दिया कि वह अब बीफ़ यानी कि गाय का मांस और पोर्क नहीं खा सकते। बीसीसीआई इन दोनों डिशेस पर पूर्ण प्रतिबंध लगाती है। बीसीसीआई ने अपने आदेश में लिखा कि हलाला वाला सर्टिफाइड मीट भारतीय खिलाड़ी खा सकते हैं। इस अध्यादेश के जारी होने के बाद लोगों ने बीसीसीआई पर अपने तंज कसे,  वहीं कुछ लोगों ने बीसीसीआई के इस फैसले का स्वागत किया।

हलाला मीट पर बवाल:

यह पूरा विवाद हलाला मीट को लेकर है। हलाला मीट पर बीसीसीआई के इस फैसले पर लोगों ने सवाल उठाने शुरू कर दिया। बताया जाता है कि हलाला मीट मुस्लिमों के लिए जरूरी है। अन्य धर्म के लोगों का इससे कोई लेना-देना नहीं है। भारतीय क्रिकेट टीम में भी हर धर्म के लोग हैं, ऐसे में किसी एक धर्म की मान्यता को लेकर क्या निर्णय लेना उचित होगा। इस बात को लेकर ट्विटर पर बीसीसीआई के खिलाफ जबरदस्त प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। बीसीसीआई के इस ऐलान पर ट्विटर पर लोगों ने जबरदस्त मीम बनाना शुरू कर दिया और बीसीसीआई को ट्रोल किया।

BCCI का बयान:

कॉन्ट्रोवर्सी को देखते हुए बीसीसीआई ने अपनी सफाई में यह बताया की ऐसा कुछ भी नहीं है। बोर्ड का कहना है कि खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ चाहे जो खाए। यह उनकी व्यक्तिगत पसंद का मामला है, इसलिए बोर्ड ने कभी ऐसी कोई योजना नहीं बनाई है।

मौजूदा हालात:

मौजूदा स्थिति में भारत और न्यूजीलैंड के बीच सीरीज मुकाबला हो रहा है। T20 सीरीज में भारत में विजय प्राप्त की थी। वही पहला टेस्ट मैच कानपुर में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला जाने वाला है। जिसमें विराट कोहली नहीं बल्कि अजिंक्य रहाणे कप्तान होंगे।