अतीक अहमद की करोड़ों की संपत्ति के बाद, ज्ञानपुर विधायक विजय मिश्र की संपत्ति पर शिकंजा कसने की बारी

ज्ञानपुर के विधायक विजय मिश्रा फिलहाल जेल की सलाखों के पीछे हैं। लेकिन अब उनके लिए एक और चिंताजनक खबर सामने आई है, जिसके तहत अब उनकी संपत्ति को ज़ब्त किया जाएगा एवं जाँच की जाएगी।

 
image : jagran
विजय मिश्र की संपत्तियों की जांच चल रही है।

उत्तर प्रदेश, Digital Desk: सूत्रों के अनुसार पूर्व सांसद अतीक अहमद की करोड़ों की संपत्ति जप्त कर ली गई है। अब इसके बाद प्रवर्तन निदेशालय ज्ञानपुर के विधायक विजय मिश्र पर शिकंजा कसने को तैयार है। ईडी की टीम ने आगरा जेल जाकर विजय मिश्र का बयान दर्ज की है।

आपको बता दें कि ज्ञानपुर के विधायक बाहुबली नेता विजय मिश्र इस वक्त आगरा की हाईटेक सिक्योरिटी जेल में कैद हैं, जिन पर कई सारे मुकदमे दर्ज हैं। उत्तर प्रदेश सतर्कता अधिष्ठान की प्रयागराज शाखा ने विधायक विजय मिश्रा और उनकी पत्नी के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत हंडिया थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। इन दोनों के खिलाफ आरोप आरोप यह था कि, इनकम से ज्यादा इनकी संपत्ति है। साथ ही वर्ष 2002 से लेकर 2017 के बीच विधायक की संपत्ति 2 करोड़ थी। लेकिन इनकी अर्जित संपत्ति की कीमत ₹23 करोड़ पाई गई है।

ईडी टीम ने विजय मिश्र को घेरा:

इसी पूरे मामले को लेकर विजय मिश्रा पर और उनकी पत्नी पर मनी लॉन्ड्रिंग के इल्जाम लगाए गए हैं। ऐसे में इंफोर्समेंट डायरेक्टरेट की एक टीम आगरा जेल गई थी, जहां पर उन्होंने विजय मिश्र का बयान दर्ज किया है। विजय मिश्रा के खिलाफ सभी सबूतों को साक्ष्य एकत्र किया गया है और कार्यवाही करने से पहले अधिकारी आगरा जेल गए थे,  ताकि उनका बयान दर्ज किया जा सके। अब इसके बाद एनफोर्समेंट डायरेक्टरेट बड़ी कार्यवाही कर सकती है।

सज़ा काट रहे है विजय मिश्र:

विधायक विजय मिश्रा के खिलाफ कई सारे मुकदमे है फिलहाल वह आगरा जेल में इन सब मुकदमों की सजा काट रहे हैं। विधायक विजय मिश्रा के खिलाफ हत्या और रेप सहित 73 से भी ज्यादा मुकदमे विभिन्न धारा एवं जिलों में दर्ज हैं। उन पर कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी पर हमला करने का भी आरोप है। कैबिनेट मंत्री विजय मिश्रा पर कई सारी धाराओं के तहत मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं। बताया जा रहा है कि बनारस की गायिका पर दुष्कर्म के आरोप भी उनके ऊपर लगाए जा चुके हैं।

जिसके तहत उन्हें हाल ही में वाराणसी कोर्ट के समक्ष पेश किया गया था। इतना ही नहीं विजय मिश्र के बेटे भी पुलिस की निगाह से फरार हैं और उनके खिलाफ पुलिस ने इनाम भी घोषित कर दिया है। पुलिस विजय मिश्रा के पुत्र विष्णु मिश्रा की तलाश में है और जल्द ही उन्हें भी जेल के पीछे डालने की तैयारी में है।

प्रयागराज में विजय मिश्र की संपत्ति पर प्रयागराज विकास प्राधिकरण का बुलडोजर चल चुका है, वहीं अल्लापुर में बहुमंजिला इमारत जमींदोज की जा चुकी है।