वाराणसी में काजू से भरी ट्रक की लूट और ट्रक ड्राइवर की हत्या पर भदोही पुलिस ने किया बड़ा खुलासा, जानें पूरा मामला

उत्तर प्रदेश की भदोही पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एक बहुत ही महत्वपूर्ण केस के बारे में प्रकाश डाला।

 
image: abp news
काजू के ट्रक की लूट और हत्या का मामला।

उत्तर प्रदेश, Digital Desk: उत्तर प्रदेश के भदोही पुलिस की टीम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एक बड़ा खुलासा किया है। दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में नए साल पर हत्या के मामले का एक पर्दाफाश हुआ है। जिसमें लगभग एक करोड़ रुपए की कीमत का काजू से लदी हुई ट्रक की लूट और ट्रक चालक को कुचल कर उसकी हत्या कर दी गई थी। हत्या और लूट में सम्मिलित एक आरोपी को ट्रक और लूटी गई ट्रक को काजू सहित बरामद कर लिया गया। हालांकि घटना में शामिल मुख्य अभियुक्त सहित तीन अन्य अभियुक्त अभी मौके से फरार हैं। जिनकी तलाश जारी है और सभी आरोपी भदोही के ही बताए जा रहे हैं।

पूरी घटना:

यह मामला वाराणसी के लंका छेत्र के डाफी बाई पास एरिया का है, जहां पहले से नजर लगा कर चार बदमाश एक ड्राइवर पर हमला कर बैठते हैं और बेरहमी से उसकी हत्या कर देते हैं। इसके बाद वे काजू से भरे हुए ट्रक को लूट लेते हैं। ट्रक को लूटने के बाद यह बदमाश फरार हो गए। बताया जा रहा है कि, दिसंबर के आखिरी हफ्ते में आंध्र प्रदेश से एक करोड़ 30 लाख कीमत के 12000 किलोग्राम का जो ट्रक को लादकर गोरखपुर ले जाया जा रहा था।

दरअसल, एक बहुत ही लंबी साजिश थी ट्रक ड्राइवर और पवन गोंड नाम का व्यक्ति पहले से काम किया करते थे। जिसका फायदा उठाकर मुख्य अभियुक्त ने लोगों के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया। पवन गोंड से ट्रक ड्राइवर ओमप्रकाश ने बनारस में मिलने की बात की और डाफ़ी बाईपास पर ढाबे के आसपास काजू से लगे हुए ट्रक को रोककर मिलना चाहा। पहले से मौजूद अंतिम आरोपियों ने उसके साथ मिलकर खूब शराब पी और बाद में खाना पीना भी हुआ। बाद में यह सब लोग ट्रक पर बैठकर आगे चल रही है और सुनसान जगह पर ट्रक चालक को धक्का देकर नीचे गिरा दिया, फिर आरोपियों ने उस पर ट्रक चला कर उसे कुचल कर मार डाला। जिसके बाद उसकी मृत्यु हो गई और आरोपी फरार हो गए।

पुलिस स्टेटमेंट:

एसपी डॉक्टर अनिल कुमार ने बताया कि वाराणसी कमिश्नरेट से मिलकर इस मामले की जानकारी हुई है और इस केस पर बड़े लंबे समय तक वार्तालाप हुई है। जिसके बाद 1 व्यक्तियों को तो गिरफ्तार कर लिया गया है एवं बाकी लोगों की जांच पड़ताल जा रही है और जल्द ही उन्हें पकड़कर करके सम्मिलित धाराओं के तहत उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।