बेटी ने की Krishna Patel के सुरक्षा की माँग, संपत्ति को लेकर बड़ी बहन और उसके पति से खतरा, DGP को लिखा पत्र

परिवारिक विवाद को लेकर Krishna Patel की छोटी पुत्री Aman Patel ने डीजीपी को पत्र लिखकर माँ की सुरक्षा की माँग की।

 
image source : self


बड़ी बहन व पति पर लगाया आरोप।

उत्तर प्रदेश, Digital Desk: अपना दल(Apna Dal) के founder सोनेलाल पटेल के घर में इस वक्त परिवारिक विवाद चल रहा है। सोने लाल पटेल ने अपना दल की स्थापना की थी। उन्होंने पूरी जिंदगी Social inequality और जातिवाद के मुद्दे पर अपनी आवाज उठाते रहे। बताया जाता है कि सोनेलाल पटेल कांशी राम और अटल बिहारी वाजपेई के बेहद करीबी थे। उनकी पुत्री Anupriya Patel मौजूदा मिर्ज़ापुर लोकसभा से सांसद है। अनुप्रिया ने पार्टी के 2 भाग  करके "अपना दल सोनेलाल"  बनाया। जिसके बाद BJP से गठबंधन के बाद उन्होंने चुनाव जीता।

क्या है विवाद?

सोनेलाल पटेल की मृत्यु 2009 पटना में हुई थी। उसके बाद से ही उनकी संपत्ति एवं कारोबार(krishna patel family dispute) को लेकर अनबन परिवार के बीच में बनी हुई थी। लेकिन अब यह अनबन अब खुलकर सबके सामने आ रही है। सोनेलाल पटेल की सबसे छोटी पुत्री अमन पटेल ने पुलिस को पत्र लिखकर सबसे बड़ी बहन पल्लवी पटेल और उसके पति पर संपत्ति हड़पने का आरोप लगाया है। साथ ही साथ अपनी मां कृष्णा पटेल को तत्काल सुरक्षा व्यवस्था प्रदान कराने की मांग भी की है।

कृष्णा पटेल फिलहाल अपना दल के बागडोर संभाली हुई हैं। अमन पटेल ने बड़ी बहन और उनके पति पंकज निरंजन पर माता कृष्णा पटेल पर दबाव बनाने का आरोप लगाया है। उन्होंने डाक के माध्यम से बुधवार को यह पत्र डीजीपी के यहां भेजा, भेजे पत्र में उन्होंने लिखा कि, 2009 में पिता की मृत्यु के बाद बड़ी बहन ने पिता के कानपुर स्थित कारोबार की बागडोर को संभाला. उन्होंने आरोप लगाया कि बिना किसी को बताए ही उन्होंने पिता की संपत्ति को अपने नाम करा लिया। इसके अलावा बड़ी बहन पर पति को पिता के व्यवसायिक ट्रस्ट में बिना किसी जानकारी सदस्य बनाने का भी आरोप लगाया गया।

इतना ही नहीं अमन पटेल ने लिखा कि उनके पिता की कर्मभूमि फूलपुर सीट हुआ करती थी और उनकी माता को भी वह फूलपुर सीट से चुनाव लड़ना चाहती थी। लेकिन दबाव के कारण उन्हें गोंडा जैसी नई सीट पर चुनाव लड़ा , जिसके बाद उन्हें हार का सामना करना पड़ा। इसी तरह पल्लवी पटेल को राजनीतिक उत्तराधिकारी घोषित किए जाने पर भी उनकी सहमति नहीं है। इन्हीं सब मामलों को लेकर छोटी बहन अमन पटेल ने डीजीपी के यहां पत्र लिखा है एवं सुरक्षा की मांग की।