ग़ाज़ीपुर की लड़की का मोबाइल नंबर पोर्न साइट पर किया अपलोड, बदले की आग में युवक ने उठाया ऐसा क़दम

मोदी की बात से एक अनजान युवक असहमत था। असहमति जताने के लिए उसने युवती का मोबाइल नंबर सीधे पोर्न वेबसाइट पर ही अपलोड कर दिया, इसका मामला गाजीपुर थाने में तत्काल प्रभाव से दर्ज कराया गया।

 
image source: medical daily
पोर्न वेबसाइट से आने लगे युवती को अलग-अलग नंबरों से फोन।
ग़ाज़ीपुर, Digital Desk: गाजीपुर की एक लड़की का मोबाइल नंबर पोर्न वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया। मामले का पता चला तो यह अंजाम एक अनजान युवक ने दिया था। लड़की और लड़के के बीच एक विषय को लेकर टिप्पणी चल रहे थे। इसको लेकर युवक और युवती का एक दूसरे से बहस होने लगी, पहले तो युवक ने अभद्र पोस्ट किया, उसके बाद युवती का मोबाइल नंबर पोर्न वेबसाइट पर अपलोड कर दिया।

क्या है पूरा विवाद?

बीते महीनों अफगानिस्तान पर तालिबान लड़ाकों के कब्जे को लेकर, भारत में जबरदस्त प्रतिक्रिया चल रही थी। इसी प्रतिक्रिया को लेकर युवती ने भी अपने विचार सोशल मीडिया पर सबके सामने रखें। इस बात से कई सारे लोगों ने युवती का साथ दिया, लेकिन एक अनजान व्यक्ति उसकी बातों से सहमत नहीं था। पहले तो उसने के ऊपर पोस्ट करना शुरू कर दिया, जब उसका मन नहीं भरा, तो उसने युवती का मोबाइल नंबर वेबसाइट पर अपलोड कर दिया। पोर्न वेबसाइट पर नंबर अपलोड होते ही, युवती को अलग-अलग नंबरों से फोन आने लगे। इसके बाद युवती बहुत परेशान हो गई, इसके बाद युवती ने तत्काल प्रभाव से गाजीपुर पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज कराया।

युवती की पहचान:

युवती इंदिरानगर की निवासी है एवं एनजीओ चलाने के साथ-साथ व सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहती है। कुछ वक्त पहले अफगानिस्तान से अमेरिका की वापसी और तालिबान के कब्जे के विषय को लेकर उन्होंने एक वेबसाइट पर पोस्ट शेयर करते हुए उस पर कमेंट किया था। उसके टिप्पणी करने के बाद एक फेक अकाउंट से युवती को आपत्तिजनक टिप्पणियां आने लगी। इस आपत्तिजनक टिप्पणी में युवती के साथ यौन शोषण करने की बात की गई, युवती इस पोस्ट का स्क्रीनशॉट ले लिया था। लेकिन यह पोस्ट आने के बाद उसे अनजान नंबर से लगातार फोन भी आने लगे। युवती को जिस नंबर से फोन आया था, वह उससे अश्लील बातें करते थे और गाली देते थे। इस बात से युवती काफी परेशान हो गई और उसने कई सारे नंबरों को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया। लेकिन युवती की दिक्कत कम नहीं हुई, महीने भर इन दिक्कतों को झेलने के बाद एक कॉलर से युवती ने पूछा कि आपको मेरा नंबर कहां से मिला। तो युवक ने बताया कि उसका मोबाइल नंबर पोर्न वेबसाइट और डेटिंग एप पर मौजूद था और यह नंबर उसी फेक आईडी यानी कि साक्षी सोनी के नाम से था।

पीड़िता का बयान:

पीड़िता ने बताया कि मैं NGO चलाने का काम करती है एवं मास्क बनाने का भी व्यापार करती है। जिसको प्रमोशन के लिए वह सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर हमेशा सक्रिय रहती है। आरोपी ने साक्षी का मोबाइल नंबर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से हासिल कर लिया। उसके बाद पीड़िता के मोबाइल नंबर को पोर्न वेबसाइट पर अपलोड कर दिया। महीनों मानसिक उत्पीड़न जलने के बाद महिला ने गाज़ीपुर पुलिस स्टेशन में एफ आई आर दर्ज कराई। पीड़िता के मुताबिक उसे अंग्रेजों के भी फोन आने लगे थे, यानी कि विदेश तक उसका नंबर फैल चुका था। जिसके बाद उसने पुलिस में कंप्लेन दाखिल कराई।