Agra: अब नहीं होगी प्रदेश में बिजली की समस्या, आगरा में कूड़े से बनेगी बिजली, मुख्यमंत्री वर्चुअल तरीके से करेंगे शिलान्यास

आगरा में अब कचरे से बिजली का उत्पादन किया जाएगा, जिससे अब बिजली की समस्या दूर हो जाएगी।

 
image; first post
वर्चुअल माध्यम से करेंगे योगी आदित्यनाथ इस प्रोजेक्ट का शिलान्यास।

उत्तर प्रदेश, Digital Desk: पिछले दिनों एक खबर बड़ी तेजी से फ़ैली कि पूरे भारत में बिजली की समस्या आने वाली है, क्योंकि कोयले की कमी होने के कारण बिजली उत्पादन की प्रक्रिया पर रोक लग गई है। जबकि माना जाता है कि भारत में कोयले का उत्पादन में बड़े स्तर पर किया जाता है, ऐसे में इस खबर ने सबको चौंका कर रख दिया था। लेकिन यह एक चेतावनी का विषय जरूर बन गया था, ऐसे में अब उत्तर प्रदेश सरकार ने एक अच्छी पहल की है। जिसके चलते अब कूड़े से बिजली बनेगी और 10 मेगावाट तक बिजली का उत्पादन किया जा सकेगा।

विस्तार:

आगरा में कचरे से बिजली बनाने के प्लांट का शिलान्यास महाराज जी मंगलवार को यानी आज वर्चुअल माध्यम से करेंगे। वह लखनऊ में वर्चुअल तरीके से वेस्ट से एनर्जी प्लांट का शिलान्यास करेंगे एवं साथ ही अन्य योजनाओं का भी लोकार्पण करेंगे। आगरा में मेयर नवीन जैन कुबेरपुर लैंडफिल साइट के 11 एकड़ जमीन पर प्रस्तावित प्लांट की भूमि का पूजन करेंगे।

मेयर नवीन जैन ने बताया कि कुबेरपुर लैंडफिल साइट पर 280 करोड़ों रुपए की लागत से कूड़े से बिजली बनाने का प्लांट बनने जा रहा है, जिसका शिलान्यास मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कर रहे हैं। इस प्लांट की क्षमता से 15 मेगावाट तक बिजली उत्पादन की जा सकती है, लेकिन शुरुआत में 10 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जाएगा। हर दिन 800 टन कचरे का इस्तेमाल करके इस प्लांट से बिजली उत्पादन किया जाएगा। हर दिन आगरा में इतना ही कचरा निकलता है, जो रोज निरस्त भी हो जाएगा और बिजली भी बनेगी। यह सब शहर के निवासियों के लिए इस्तेमाल में आएगा।

नगर आयुक्त का कहना है कि यह प्लांट विदेशी तकनीकों पर आधारित है। मंगलवार को लगभग दोपहर 3:00 बजे तक भूमि पूजन समारोह की शुरुआत होगी, जिसके बाद शाम को सभी बड़े अधिकारी इस जगह मौजूद रहेंगे।

नगर निगम ई-आफिस:

दोपहर में वेस्ट टो एनर्जी प्लांट के शिलान्यास के बाद शाम को 6:00 बजे नगर निगम परिसर में ही मेयर नवीन जैन द्वारा ई-ऑफिस का लोकार्पण किया जाएगा। इस ऑफिस के जरिए नगर निगम में सभी पत्रावली ऑनलाइन हो जाएँगी।