सोनभद्र में सामने आई रेप की घटना शादी का वादा कर किया था दुष्कर्म, डीजीपी मिर्ज़ापुर ने दिया जाँच का आदेश

सोनभद्र में एक दिल दहलाने वाली घटना सबके सामने आई है, इसमें एक युवक युवती के घर गया और उसे अकेला पाकर उसके साथ दुष्कर्म करने की कोशिश की।

 
image: unb
पीड़िता ने लगाई ट्विटर पर गुहार।

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: सोनभद्र के बीजपुर थाना क्षेत्र में 1 गांव निवासी युवती के साथ दुष्कर्म की घटना सामने आई है। सोनभद्र में 1 गांव की युवती के साथ इलाके के एक युवक ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। जो खबर अब सोशल मीडिया पर भी बड़ी तेजी से फैल गई है। खबर के मुताबिक जब पीड़िता गर्भवती हो गई, तो आरोपी ने उसके साथ शादी करने से इनकार कर दिया था। इस मामले को डीजीपी मिर्ज़ापुर में अपने संज्ञान लिया है और धारा 376 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है।

शादी से झाँसा देकर बनाए शारीरिक संबंध:

आरोपी युवक ने पहले उससे शादी का झांसा दिया और उसके साथ शारीरिक संबंध बनाएं। जब महिला गर्भवती हो गई तो उसमें उस बच्चे और महिला को, दोनों को स्वीकार करने से साफ इनकार कर दिया। शादी का झांसा देकर युवक ने युवती के साथ कई बार दुष्कर्म किया, जिसके चलते वह 2 महीने की गर्भवती हो गई थी। जब पीड़िता की मां ने युवक के परिवार वालों से बातचीत करने की बात कही दोनों साफ इनकार कर दिया इस मामले को लेकर गांव में कई बार पंचायत भी हुई लेकिन बात नहीं बनी।

युवती को अकेला पाकर फ़िर दुष्कर्म का प्रयास:

युवती की शिकायत के मुताबिक 1 वर्ष पहले पीड़िता को घर में अकेला पाकर युवक उसके घर में घुस गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। उसकी मां घर से बाहर किसी काम से गई थी, जब वह घर आई तो उसने पूरी घटना अपनी मां को बताई। जब वह अपनी बेटी को लेकर युवक के घर गई तो युवक ने शादी का बहाना बनाकर उन्हें करवा दिया था। लेकिन आरोपी ने उसके बाद उसे कई बार शादी का झांसा दिया और दुष्कर्म करता गया, जिसके चलते वह गर्भवती हो गई। पीड़िता ने बताया कि पुलिस ने उसे कार्यवाही करने से मना किया था।

ट्विटर पर लगाई गुहार, डीजीपी ने किया पूरे मामले का संज्ञान:

उधर महिला ने जो भी दरवाजा खटखटाया और किसी ने उसकी सहायता का दरवाजा नहीं खोला। तो महिला ने फिर ट्विटर का सहारा लिया, ट्विटर की सहायता लेते हुए महिला ने आरोपी पर शिकायत करवाने का ज़ोर डाला।

शिकायत होने के बाद डीजीपी मिर्जापुर में शिकायत को अपने संज्ञान में लिया और सोनभद्र पुलिस और पुलिस अधीक्षक को जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। एडीजीपी वाराणसी ने भी हस्तक्षेप किया और आरोपी के खिलाफ धारा 376 आईपीसी के तहत एफआईआर दर्ज कर ली गई है। फिलहाल आरोपी की तलाश जारी है और पीड़िता को इंसाफ जल्द मिलेगा।