Sim Swap के Fraud Cases में हो रही है बढ़ोतरी, यहाँ जानिए बचने के तरीके

सिम कार्ड स्वाइपिंग एक्सचेंज से फ्रॉड के मामले इधर बीच बढ़ते हुए नजर आ रहे हैं। यह जालसाज आपके मोबाइल नंबर पर दूसरा सिम पा लेते हैं। जिसके बाद फ्रॉड करने वाले आपके बैंक मोबाइल नंबर पर ओटीपी को हासिल करके, आपके बैंक से पैसे उड़ा ले जाते हैं।

 
image source : asknet.in

मिनटों में उड़ा लेते है, बैंक से पैसे।

डिजिटल डेस्क: फ्रॉड करने वाले अलग-अलग तरीके ढूंढते रहते हैं, जिसके कारण वे आसानी से लोगों के पैसे लूट लेते हैं। इन फ्रॉड करने वालों ने अब एक नया तरीका ढूंढ निकाला है, जिसमें घर बैठे ही वह आपके बैंक अकाउंट से लाखों रुपए उड़ा ले जाएंगे।

Simcard Swapping and Exchange:

सिम कार्ड स्वाइपिंग और एक्सचेंज मामला आजकल बड़ा सुनने को मिल रहा है। जिसमें फ्रॉड करने वाले दूसरे सिम कार्ड पर आप ही के नंबर से एक्टिवेट हो जाते हैं। जिसके बाद बैंक को लगता है कि वे आपको ओटीपी भेज रहा है, लेकिन दरअसल यह ओटीपी उस फ्रॉड करने वाले के सिम कार्ड पर जा रहा है, जिस पर आपका ही नंबर है। ओटीपी मिलने के बाद कोई भी आदमी कैसा भी ट्रांजैक्शन कर सकता है, बाद में फ्रॉड करने वाले आपके अकाउंट से लाखों रुपए निकाल लेता है और आप फस जाते हैं।

Internet Fraud की भाषा में इसे "Internet Fishing" कहते हैं. यह आपके बैंकिंग अकाउंट और रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर की जानकारी पा लेते हैं। यह फ्रॉड करने वाले मोबाइल खो जाने के बहाने से मोबाइल सर्विस प्रोवाइडर के यहां संपर्क करते है। कंप्लेंट करने के बाद कस्टमर केयर एग्जीक्यूटिव इनका पुराना sim deactivate कर देता है और फर्जी को नया सिम दे देता है। ऐसे में जो ओरिजिनल कस्टमर होता है उसके मोबाइल में सिम नेटवर्क नहीं आता, और नाहीं ओटीपी। इसी बात का फायदा यह फ्रॉड करने वाले उठाते हैं और आपके मोबाइल पर ओटीपी मंगा कर लाखों रुपए उड़ा ले जाते हैं।


बचने के उपाय -

• आपको समय-समय पर अपने मोबाइल का नेटवर्क चेक करते रहना चाहिए। अगर आपके मोबाइल में फोन नहीं आ रहा और मैसेज नहीं आ रहा, तो यह किसी गड़बड़ का संकेत है। तुरंत अपने नेटवर्क प्रोवाइडर को संपर्क करें।

• बैंक में अपना मोबाइल नंबर जरूर ऐड करिए ताकि हर सूचना आपको मिलती रहे।

• अपना बैंक स्टेटमेंट हमेशा चेक करते रहिए, ट्रांजैक्शन हिस्ट्री चेक करते रहिए, ताकि किसी गड़बड़ की जानकारी मिल सके।

• अपने सिम कार्ड की डिटेल किसी को प्रदान न करें और प्राइवेसी रखे।

• अगर आपको लगातार फोन भी आ रहे हैं, तो फोन स्विच ऑफ मत करिए। फोन स्विच ऑफ होने के बाद फ्रॉड करने वाले मौके फायदा उठा सकते हैं।