मिर्ज़ापुर वायरल वीडियो : मंत्री के इशारे पर गुप्तांगों में लाठी डालकर मारने का आरोप, लालगंज थाने का मामला

वांछित आरोपी ने वकील के सामने कचहरी पेशी के लिए ले जाते समय रोते हुए पुलिस व मंत्री पर आरोप लगाए
 
mirzpaur viral video news
युवक का आरोप - "जितनी बार मंत्री का फोन आता था उतनी बार उसके गुप्तांगों में लाठी-डंडा डाला जाता रहा"


मिर्ज़ापुर लालगंज : सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रहे वीडियो ने एक बार फिर से सनसनी मचा दी है, जहाँ एक वांछित आरोपी ने वकील के सामने कचहरी पेशी के लिए ले जाते समय रोते हुए पुलिस व मंत्री पर आरोप लगाए हैं।

किस मामले में हुई थी गिरफ्तारी

एक युवक पर जानलेवा हमला करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था, 26 दिसंबर को लालगंज थाना क्षेत्र के रामपुर अतरी गाँव के रहने वाले मनोज कुमार पटेल नामजद अभियुक्तों के खिलाफ भाई पंकज के जमीन पैमाइश को लेकर जानलेवा हमला करने का मामला दर्ज कराया था।

कहाँ हुई थी गिरफ्तारी

पुलिस की सूचनानुसार खजूरी बाईपास के पास अभियुक्त रामपुर अतरी गाँव के रहने वाले योगेश तिवारी उर्फ़ टिंकू व मंगला आनंद उर्फ़ दीपक को गिरफ्तार कर किया था।

वांछित आरोपी ने लगाये संगीन आरोप

सोशल मीडिया साइट्स पर वायरल हो रहे इस वीडियो में एक युवक अपने साथ हुई घटना के बारे में बताते हुए शर्म के साथ रोने लगता है। दरअसल वीडियो में दिख रहा शख्स एक वांछित आरोपी है जिसे पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर मामले की पूछताछ की जा रही थी, लेकिन इस युवक ने पेशी के लिए ले जाते समय कुछ सनसनीखेज खुलासे करते हुये आरोप लगाया।

युवक का आरोप

युवक वायरल वीडियो में अपने साथ अमानवीय तरीक़े से की गई पूछताछ की बात कहते हुए रो रहा है, युवक का आरोप है कि पुलिस ने उसके गुप्तांग में लाठी डंडे डाल कर उसकी पिटाई की है। इतना ही नहीं शख्स अपनी बात कहते हुए एक और आरोप लगता है। 

युवक का कहना है कि "ये सब किसी मंत्री के इशारे पर किया जा रहा था जितनी बार मंत्री का फोन आता था उतनी बार उसके गुप्तांगों में लाठी-डंडा डाला जाता रहा", और गम्भीर चोट आने के बावजूद उसे किसी मेडिकल चेकअप या सीटी स्कैन के लिए मंजूरी नहीं दी गई।

मड़िहान के पूर्व विधायक ललितेशपति त्रिपाठी ने भी मामले को सोशल साइट पर डालकर इसकी निन्दा की है।



 

मंत्री बोले- मैंने नहीं किसी को फोन नहीं किया

मामले को लेकर भाजपा के राज्यमंत्री रामशंकर सिंह पटेल ने बताया, 'मामला काफी पुराना है। दोनों पक्षों का फोन आया था, मैंने किसी को फोन नहीं किया। जिसकी पिटाई हुई है, वह कांग्रेसी मानसिकता का है। दूसरा पक्ष सपा से है। दोनों पक्षों की उनके ससुराल के पास रिश्तेदारी है'।