मिर्ज़ापुर खबर: डीएम का ऐलान, किशोरों के लिए वैक्सीनेशन के लिए विद्यालय में ही लगाए जाएंगे कैंप

मोदी सरकार ने अब बच्चों के टीकाकरण का भी बात कह दी है, इसके अनुसार अब बच्चों का टीकाकरण करना आवश्यक है।

 
image: live vns

15 से 18 वर्ष की आयु वाले लोगों का होगा टीकाकरण।

मिर्ज़ापुर, Digital Desk: डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार शुक्रवार को कैंप कार्यालय पर स्वास्थ्य विभाग के साथ अधिकारियों की बैठक में यह निर्णय लिया कि 10 जनवरी 2022 तक प्रथम डोज के छूटे हुए व्यक्तियों का शत प्रतिशत वैक्सीनेशन का कार्य पूरा कर दिया जाए। ऐसे में प्रदेश के लिए सबसे बड़ा चैलेंज बच्चों के टीकाकरण का है, इसके लिए भी डीएम अपनी टीम के साथ पूरी तैयारियां कर रहे हैं। जिसमें अब बुजुर्ग के साथ-साथ बच्चों के टीकाकरण की बारी आ गई है।

मिर्ज़ापुर DM:

मिर्ज़ापुर के डीएम साहब ने कहा कि इसी तरह पहले हम प्रथम वैक्सीनेशन के छूटे व्यक्तियों का शत प्रतिशत वैक्सीनेशन करेंगे। उसके बाद जिन व्यक्तियों को दूसरे वैक्सीनेशन की डोज लगवानी है, उनका भी वैक्सीनेशन 20 जनवरी तक कम से कम 75% तक पूर्ण कर लेंगे। डीएम साहब ने बताया कि आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए भारत निर्वाचन आयोग के सख्त निर्देश है कि प्रथम वैक्सीनेशन का डोज प्रत्येक व्यक्ति लगाकर उसकी रिपोर्ट भेजें। डीएम ने मुख्य चिकित्साधारी को निर्देश दिए हैं और कहा कि जिन एमओआईसी की प्रगति कम है। उनके साथ वे कार्ययोजना बनाकर शत-प्रतिशत लक्ष्य बनाकर पूर्ण करें।

बच्चों का टीकाकरण:

डीएम ने 15 और 18 वर्ष तक आयु वाले युवाओं के वैक्सीनशन  के संबंध में कहा कि, स्वास्थ विभाग के अधिकारी इंटर कॉलेज व डिग्री कॉलेज के प्रधानाचार्य से समन्वय स्थापित कर स्कूलों में कैम्प लगाकर वैक्सीनेशन सुनिश्चित करें। इस बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी भी मौजूद रहें।