Uttar Pradesh Corona: फरवरी महीनें में चर्म पर होगी कोरोना की तीसरी लहर, IIT कानपुर के प्रोफेसर ने बताया रोज़ आ सकते है 8 लाख़ केस

उत्तर प्रदेश में कोरोना के केस बढ़ते हुए नजर आ रहे हैं। ऐसे में  कानपुर के एक वैज्ञानिक ने बताया कि जनवरी के तीसरे हफ्ते में दिल्ली और मुंबई में कोरोना की तीसरी लहरा सकती है।

 
image: live hidustan

देश में शुक्रवार को वैक्सीनशन का आंकड़ा 150 करोड़ के पार।


 

उत्तर प्रदेश, Digital Desk: देशभर में कोरोनावायरस तेजी से बढ़ते हुए नजर आ रहे हैं। ऐसे में अब उत्तर प्रदेश के भी कई जिलों में कोरोनावायरस के केस बढ़ते हुए देखने को मिल रहे हैं। जहां कोरोनावायरस की लहर के दौरान हर दिन 4 से 8 लाख़ केस रोजाना सामने आ सकते हैं। वही गणितीय आंकड़ों के आधार पर कानपुर आईआईटी के सीनियर वैज्ञानिक ने बताया कि इस दौरान मुंबई में रोज 30 से 60 हजार और दिल्ली में पीक के दौरान 35 हज़ार से 70 हज़ार केस देखने को मिल सकते हैं।

विस्तार:

कानपुर आईआईटी के सीनियर वैज्ञानिक ने बताया कि अध्ययन अनुसार केस बढ़ने पर स्थानीय लेवल पर अस्पतालों में बेड की कमी भी हो सकती है। इस दौरान देश में संक्रमित होने वाले की तुलना डेढ़ लाख से भी ज्यादा बेड की जरूरत पड़ सकती है। हालांकि इससे पहले प्रोफेसर ने बताया था कि पीठ के दौरान रोजाना 2 लाख़ से भी ज्यादा केस देखने को मिल सकते हैं।

वहीं उन्होंने कहा था कि दक्षिण अफ्रीका में आ रहे इसके आधार पर भारत में संक्रमण फैलने की रफ्तार का आंकलन किया गया था। लेकिन अब जब देश में संक्रमण फैलने की शुरुआत हुई है, तो मॉडल के आंकड़े बदलते हुए नजर आ रहे हैं। फिलहाल देश में संक्रमण फैलने की रफ्तार दक्षिण अफ्रीका के मुकाबले तेज हो गई है। इसलिए अब और ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है।

दिल्ली-मुम्बई में हाल:

बता दे, कानपुर आईआईटी के प्रोफेसर अग्रवाल ने बताया कि राजधानी दिल्ली और मुंबई में करो ना की तीसरी लहर जनवरी के तीसरे हफ्ते में आ सकती है। इस दौरान मुंबई से ज्यादा मामले दिल्ली में सामने आएंगे। हालांकि मुंबई में केस की तुलना के अनुसार 10000 बेड और दिल्ली में केस की तुलना के अनुसार 12000 बेड की और जरूरत पड़ सकती है। ऐसे में दिल्ली और मुंबई से आने वाले यात्रियों की वजह से उत्तर प्रदेश में भी संक्रमण भारी मात्रा में खेलने को देखने मिल सकता है। उत्तर प्रदेश में फिलहाल मकर संक्रांति को लेकर त्योहारों की धूम मची हुई है। लेकिन इससे संक्रमण और बढ़ सकता है और बढ़ रहा है। फ़िलहाल बढ़ते संक्रमण को देख उत्तर प्रदेश में नाईट कर्फ्यू लागू है, जिससे 10pm से 6pm तक घर से निकलना मना है।

किशोरों का वैक्सीनशन:

गौरतलब है कि देश में शुक्रवार को कोरोनावायरस का आंकड़ा 150 करोड़ के पार पहुंच चुका है। जहां पर 15 से 18 वर्ष के किशोरों के लिए 3 जनवरी से शुरू हुए, वैक्सीनेशन अभियान अब तक 22% से ज्यादा हो चुका है। यानी कि 22 परसेंट से ज्यादा किशोरों ने अपनी पहली डोज़ ले ली है। वहीं 90% से ज्यादा लोगों ने अपना पहला वैक्सीनेशन पूरा कर लिया है। स्वास्थ्य मंत्री ने सब से अपील की है कि, अगर हम सब साथ मिलकर इस बीमारी का डटकर मुकाबला करें, तो हम कोई भी लक्ष्य हासिल कर सकते हैं।