अब डिजिटल माध्यम से आप ले सकेंगे उत्तर प्रदेश रोडवेज की बस का टिकट, यूपीआई और एटीएम की सुविधा उपलब्ध

अब आधुनिक ई-टिकटिंग मशीनों के द्वारा आप कैशलेस टिकट बुक कर सकते हैं और यह प्रक्रिया इस महीने से लागू होगी।

 
Self

इस महीनें से शुरू होगी ऑनलाइन टिकट बुक करने की सुविधा।

उत्तर प्रदेश, Digital Desk: आदमी को टिकट बुक करने की परेशानियों का सामना करना पड़ता है और खासकर यह परेशानी रोडवेज की बस में होती है। यहां से टिकट लेने करने की यह असुविधा नहीं होती, बल्कि टिकट लेने के बाद छुट्टे पैसे वापस लेने की भी होती है। आए दिन यात्रियों और परिचालकों के बीच छुट्टे पैसे को लेकर विवाद होता रहता है। ऐसे में इस विवाद पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लग जाएगा। क्योंकि अब रोडवेज प्रबंधक बसों में इसी महीने से कैशलेस टिकट बुक करने की व्यवस्था शुरू करने की कोशिश में है।

पूरा सार:

आधुनिक ईटिकटिंग मशीनों के माध्यम से अब कैशलेस टिकट का भुगतान किया जाएगा। ऐसे में परिवहन निगम प्रशासन इसी महीने से इसकी तैयारी करने में लगा है। पायलट प्रोजेक्ट के लिए ट्रायल रन के तौर पर लखनऊ  मार्ग गाजियाबाद रीजन के प्रथम चरण में लगभग 2000 से भी ज्यादा इलेक्ट्रॉनिक टिकट मशीन मंगाई जा रही हैं। जिनके उपयोग से इस प्रक्रिया को इसी महीने से शुरू कर दिया जाएगा। यह एक महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट है, इसीलिए इन ई-टिकट मशीन की खासियत यह होगी कि यह न केवल टिकट बना कर देंगे बल्कि सभी तरह के कार्ड से पेमेंट भी लेंगे। चाहे वह कार्ड किसी भी बैंक का हो या फिर अथवा डेबिट या क्रेडिट कार्ड हो, यह मशीन सभी प्रकार के कार्ड को पढ़कर भुगतान का मार्ग प्रदर्शित करेंगे। अब यात्री यूपीआई और एटीएम से भुगतान करने के साथ-साथ टिकट तो लेंगे ही, लेकिन जितनी टिकट का पैसा होगा उतना ही भुगतान करेंगे।

 पूर्ण रूप से प्रदेश में अब लगभग 15500 मशीनें लगने जा रही हैं। रोडवेज बसों में यात्रियों को सफर करने के लिए प्रबंधक का यह एक महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट है। जिससे यात्रियों को टिकट लेने के बाद छुट्टे पैसे के नाम पर विवाद से छुटकारा मिलेगा, साथ के साथ बची हुई धनराशि न वापस लेने का झंझट ही खत्म हो जाएगा। सभी मशीनें ऑनलाइन होगी और जो लोग चोरियां किया करते थे उनपर भी अब पूर्ण रुप से रोक लगाया जाएगा।